DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पॉलीटेक्निक चौराहे पर जाम से मिल सकेगी निजात

- पॉलीटेक्निक चौराहे पर नहीं सुधर रहा है रोडवेज बसों का संचालन- ट्रैफिक की ओर से दिए गए सुझावों को अमल में नहीं ला रहा है परिवहन विभाग लखनऊ। निज संवाददाता रोड इंजीनियरिंग को देखते हुए पॉलीटेक्निक चौराहे की बनावट में तेजी से सुधार किया जा रहा है। ट्रैफिक महकमे की ओर से उम्मीद जताई जा रही है कि सुझावों के आधार पर चौराहे पर किए जा रहे बदलाव से लोगों को जाम से निजात मिलेगी। चौराहे पर मेट्रो की ओर से हो रहा निर्माण 10 दिन में पूरा कर लिए जाने की संभावना है। निर्माण के बाद गोल चक्कर में फूल-पौधे लगाकर चौराहे का सौंदर्यीकरण भी होगा। कम की जा रही है चौराहे की गोलाई पॉलीटेक्निक चौराहे पर बने गोलंबर की गोलाई को वृत्त आकार में चारों ओर से कम किया जा रहा है। इसको करीब दो मीटर तक कम किया जाएगा। उसके बाद उस गोलाई के बगल से सटाकर पैदल चलने वालों के लिए छोटा सा फुटपाथ भी बनेगा। इस गोल चक्कर पर बीच में रंग-बिरंगे फूल के पौधे भी लगाए जाएंगे। इसके साथ ही चौराहे पर बने पुलिस और ट्रैफिक बूथ को हटाया जा रहा है। वहां पर यू-टर्न निर्माण शुरू कर दिया गया है। इस यू-टर्न से फैजाबाद रोड कमता से आने वाले वाहन व खासकर रोडवेज बसें वापस फैजाबाद, गोरखपुर की ओर मुड़कर जाएंगी। ये वाहन पूरे गोल चक्कर को नहीं घूम पाएंगे। ट्रैफिक के सुझाव पर नहीं हो रहा है अमल ट्रांसगोमती क्षेत्र और पॉलीटेक्निक चौराहा की यातायात व्यवस्था देख रहे टीएसआई प्रेमशंकर शाही ने बताया कि चौराहे पर रोडवेज बसों, ऑटो-टेम्पो, ई-रिक्शा ठहराव के लिए कुछ सुझाव दिए गए हैं। पर, परिवहन विभाग के अफसर उसको अमल में नहीं ला रहे हैं। जाम न लगने की दृष्टि से कुछ सुझाव दिए गए हैं। इसमें लोहिया पथ से आने वाली रोडवेज बसों व अन्य कामर्शियल वाहनों को चौराहे से 100 मीटर पहले बाईं ओर एचएएल की बाउंड्री के पास शेड बनवाकर ठहराव किया जाए। ऐसे ही फैजाबाद रोड पर राजकीय पॉलीटेक्निक के बगल बने शौचालय के पहले शेड और कमता, फैजाबाद रोड से आकर बाएं मुड़कर वेव सिनेमा की ओर मुड़ने पर एक शेड चौराहे से 100 मीटर बाद बनवाकर ठहराव कराया जाए। चल रहा है प्रस्ताव रोडवेज के आरएम पल्लव बोस ने बताया कि ट्रैफिक की दृष्टि से आए सुझावों को अमल में लाया जाएगा। शेड बनवाने के लिए प्रस्ताव बनाया जा रहा है। इसके लिए परिवहन विभाग की निर्माण इकाई से जल्द स्थानों का निरीक्षण किया जाएगा। उसके बाद बजट मिलने पर शेड निर्माण किया जा सकेगा। अभी फौरी तौर पर बसों का सही से संचालन देखने के लिए विभाग के दो यातायात निरीक्षकों की ड्यूटी लगाई गई है। वर्जन मेट्रो के डिप्टी प्रोजेक्ट मैनेजर अरविंद सिंह ने बताया कि चौराहे पर गोल चक्कर, यू-टर्न का निर्माण 10 दिन में पूरा कर लिया जाएगा। उसके बाद सौंदर्यीकरण किया जाएगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:polytechnic chauraha