DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

केबल डालने के दौरान गोमती नगर में पीएनजी की पाइप लाइन टूटी

अंडरग्राउंड केबल डाले जाने के दौरान शुक्रवार देर रात गोमती नगर इलाके में एक बार फिर पीएनजी की पाइप लाइन टूट गई। समय रहते इसकी सूचना ग्रीन गैस को मिल गई। गैस सप्लाई को रोक कर गैस रिसाव पर काबू पाया गया। आठ घंटे की कड़ी मशक्कत के बाद शनिवार को कम्पनी के इंजीनियर टूटी पाइप लाइन को दुरूस्त कर सके।

ग्रीन गैस का आरोप है कि शुक्रवार रात बिजली विभाग गोमती नगर शहीद पथ के किनारे स्थित विराज टावर के पास अंडरग्राउंड केबल डालने का काम कर रहा था। देर रात विभाग के ठेकेदारों की लापरवाही के कारण जमीन के नीचे से जा रही पीएनजी की पाइप लाइन टूट गई। पाइप टूटते ही जोरदार आवाज के साथ गैस तेजी से बाहर निकलने लगी। गैस निकलता देख काम कर रहे मजदूर भाग निकले। सुबह चार बजे लीकेज की सूचना ग्रीन गैस को मिली। तुरंत गैस की सप्लाई रोकी गई। कम्पनी के इंजीनियरों ने मौके पर पहुंच कर पाइप लाइन को ठीक किया। ग्रीन गैस के मुख्य प्रबंधक (विपणन) सूर्यप्रकाश गुप्ता के मुताबिक विराज टावर के इलाके में पीएनजी का कोई कनेक्शन नहीं है। इस कारण किसी भी उपभोक्ता को कोई दिक्कत नहीं हुई।

अंडरग्राउंड खोदाई से पहले ग्रीन गैस को दे सूचना

ग्रीन गैस ने विभिन्न विभागों और लोगों से अपील की है कि जिन इलाकों से पीएनजी की लाइन जा रही हैं ऐसे इलाके में अंडरग्राउंड केबल डालने या खोदाई से पहले कम्पनी को इसकी सूचना जरूर दे। ग्रीन गैस के मुख्य प्रबंधक सूर्यप्रकाश गुप्ता बताते हैं कि सूचना मिलने पर कम्पनी अपने इंजीनियरों को भेज देगी। जिससे कम्पनी और आम लोगों को कोई दिक्कत नहीं होगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:png pipe line