DA Image
9 अगस्त, 2020|7:29|IST

अगली स्टोरी

‘हिन्दुस्तान’ आठवां फेरा कार्यक्रम:जोड़ों को समान अधिकार का वचन दिलाया गया

 hindustan  eighth  program

सात फेरों का बंधन क्यों, आठवें फेरे का वचन क्यों नहीं? उसके हाथ में केवल घर की ही चाबी क्यों, कामयाबी की चाबी क्यों नहीं? वो सिर्फ घर की ही बॉस क्यों रहे, दफ्तर की क्यों नहीं? ...चलिये उनकी उम्मीदों के पर लगा दें, ताकि वो हर बुलंदी को बौना बना दें। नए रिश्ते क्यों न नए नजरिये से बनाएं? सात वचन तो सब लेते हैं लेकिन आठवां लेने में देरी क्यों? 'हिन्दुस्तान' ने इस नई परंपरा की शुरुआत रविवार को फन मॉल से की। 
'हिन्दुस्तान' आठवां फेरा कार्यक्रम के तहत फन मॉल में आयोजित कार्यक्रम में शॉपिंग करने आये जोड़ों को समान अधिकार का वचन दिलाया गया। आठवां फेरा दिलवाने के लिये मण्डप भी बनाया गया और पंडित जी की भी व्यवस्था की गई। जोड़ों को सांकेतिक रूप से आठवां फेरा लगवाते हुए पतियों से कहलवाया गया कि 'वो अग्नि को साक्षी मानकर वचन देते हैं कि वो हमेशा अपनी पत्नी को बराबर समझेंगे'। फेरा लेने के बाद जोड़ों को सेल्फी प्वाइंट पर भी फोटो खींचने का अवसर दिया गया। 
इससे पहले जोड़ों का चयन सामान्य ज्ञान से संबंधित प्रश्नों को पूछकर किया गया। जिसने उत्तर दिया उसको यह वचन लेने का मौका मिला। आठवां फेरा लेने वाले जोड़ों को गिफ्ट में चॉकलेट भी भेंट स्वरूप दी गई। संचालन एंकर स्वाति चंद्रा ने किया। गोमतीनगर में तीसरी कक्षा की दृष्टि श्रीवास्तव और राजाबाजार में रहने वाली माही ने भी प्रश्नों के उत्तर देकर चॉकलेट जीती। 
---------------------
मो. राजा ने शाहीन बानो के साथ लिया आठवां फेरा
शहीन बानों सुन और बोल नहीं सकती हैं। चार साल पहले उनकी हुसैनाबाद में रहने वाले मोहम्मद राजा से शादी हुई। जब उनको आठवां वचन लेने का मौका मिला तो उत्साहपूर्वक वे हिन्दुस्तान के मंच पर पहुंच गये। उन्होंने कहा कि साथ जीने और साथ मरने का वचन तो हमने चार साल पहले लिया ही था। आठवां वचन भी पूरे मन से निभाऊंगा। 
----------------------------
17 साल से निभाता आ रहा बराबर समझने का वायदा
ग्लोबल हाईट्स गोमतीनगर के आदित्य और नीलू की शादी के 17 साल हो चुके हैं। आदित्य ने बताया कि हमेशा अपनी पत्नी को बराबरी का दर्जा देते आए हैं। ‘हिन्दुस्तान’ की पहल को आगे बढ़ाते हुए आपके मंच पर फिर से पूरी जनता के सामने मैं वचन देता हूं कि अपनी पत्नी को अपने बराबर ही समझूंगा। उत्साह से भरे इस जोड़े ने आठवां फेरा भी लिया और सेल्फी भी खिंचवाई। 

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Pledges of equal rights to couples