DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

लोग कॉल करते रहे, नहीं पहुंची एंबुलेंस

default image

लखनऊ। निज संवाददाता खुर्रम नगर के एक मकान में ई-रिक्शा चॉर्जिंग के दौरान लगी भीषण आग में झुलसे मरीजों को एंबुलेंस से अस्पताल ले जाना था। स्थानीय लोगों का आरोप है कि वह एंबुलेंस सेवा 108 पर कॉल करते रहे, लेकिन एंबुलेंस नहीं पहुंची। पुलिस ने अपनी गाड़ी से झुलसे लोगों को सिविल अस्पताल पहुंचाया। राजधानी में एंबुलेंस सेवा की व्यवस्था चरमराई हुई है। शनिवार को सरोजनी नगर और मोहनलालगंज की घटना के कुछ घंटे भी नहीं बीते कि खुर्रम नगर इलाके में हुए अग्निकांड में फिर से एंबुलेंस सेवा की बदहाली का नजारा दिखा। सुबह सात बजे के करीब आग लगने से परिवार के तीन सदस्य झुलस गए। उनको अस्पताल पहुंचाने के लिए वहीं से कई लोग एंबुलेंस सेवा 108 पर कॉल करते रहे। इन स्थानीय लोगों का आरोप है कि काफी देर तक एंबुलेंस को कॉल करते रहे। काफी मुश्किल से एंबुलेंस सेवा में कॉल रिसीव हुई। पर, समय से एंबुलेंस नहीं आई। वर्जन एंबुलेंस (यूपी 32 बीजी 8991) को मौके पर रवाना किया गया था। एंबुलेंस के कॉल सेंटर पर सुबह 8:10 बजे कॉल आया। फैजाबाद रोड के बीबीडी से एंबुलेंस 108 सेवा सुबह 8:28 पर पहुंच गई थी। वहां पता चला कि सात मिनट पहले मरीज अस्पताल गए। धनंजय, सीईओ, जीवीकेईएमआरआई

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:People kept calling the ambulance did not reach