class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बीते साल की तुलना में चार गुना अधिक हुई धान खरीद

बीते साल की तुलना में चार गुना अधिक हुई धान खरीद

मुख्य सचिव की भारतीय खाद्य निगम के सीएमडी योगेन्द्र त्रिपाठी से भेंट

प्रदेश सरकार के धान खरीद के लक्ष्य को हासिल करने में

भारतीय खाद्य निगम पूरा सहयोग करेगा

अब तक 14 लाख 49 हजार मीट्रिक टन धान की हुई खरीद

विशेष संवाददाता राज्य मुख्यालय

मुख्य सचिव राजीव कुमार से गुरुवार को यहां भारतीय खाद्य निगम के अध्यक्ष एवं प्रबंध निदेशक योगेन्द्र त्रिपाठी ने मुलाकात कर धान खरीद और चावल भण्डारण पर वार्ता की।

मुख्य सचिव ने बताया कि प्रदेश में अब तक 14 लाख 49 हजार मीट्रिक टन धान की खरीद की गयी है, जो कि बीते वर्ष इसी अवधि में की गई खरीद से लगभग 4 गुना अधिक है। एक लाख 68 हजार 112 किसानों से सीधे धान की खरीद कर 2250 करोड़ रुपये का भुगतान कराया जा चुका है।

श्री त्रिपाठी ने अपने अधीनस्थ अधिकारियों को निर्देश दिया कि खाद्य निगम द्वारा खोले गए 132 खरीद केन्द्रों के माध्यम से आवंटित लक्ष्य 2 लाख मीट्रिक टन के मुकाबले 81 हजार मीट्रिक टन की खरीद की जा चुकी है, शेष लक्ष्य की प्राप्ति समयबद्ध रूप से कर ली जाए।

श्री त्रिपाठी ने बताया कि केन्द्रीय पूल के तहत इस समय पूरे प्रदेश में 224 गोदाम संचालित हैं। इसमें से 44 गोदाम भारतीय खाद्य निगम व शेष राज्य भण्डारण निगम के 156 डिपो एवं केन्द्रीय भण्डारण निगम के 24 डिपो हैं। इन सभी गोदामों पर सरकारी चावल को लेने का काम किया जा रहा है। प्रदेश सरकार एवं सम्बन्धित खरीद एजेन्सियों से चावल मिलों का करार हो चुका है। इन गोदामों से प्रदेश की चावल मिलों का सम्बद्धीकरण किया जा चुका है।

श्री त्रिपाठी ने खाद्य निगम के अधिकारियों को आगे भी चावल उतार की व्यवस्था को सुचारु रूप से क्रियान्वित करने का निर्देश दिया। उन्होंने कहा कि किसानों से सीधे खरीद के लिए जमीन स्तर पर भरसक प्रयत्न किये जाएं, ताकि किसानों को न्यूनतम समर्थन मूल्य योजना का पूरा लाभ मिल सके।

भारतीय खाद्य निगम के महाप्रबंधक दिव्य प्रकाश शुक्ला ने बताया कि प्राइवेट प्लेयर्स द्वारा 12 जिलों में की जा रही धान खरीद की निरन्तर समीक्षा की जा रही है। लक्ष्य के मुताबिक खरीद न होने की स्थिति में उनके विरुद्ध कड़ी कार्यवाही की जाएगी।

वार्ता में खाद्य विभाग की प्रमुख सचिव निवेदिता शुक्ला वर्मा एवं खाद्य आयुक्त आलोक कुमार सहित अन्य वरिष्ठ

अधिकारी उपस्थित थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Paddy procurement four times more than last year
पॉवर कारपोरेशन को स्ट्रीट लाइट पर मीटर लगाना पड़ रहा महंगानैमिष तीर्थ के विकास के लिए केंद्र व राज्य सरकार से करूंगा बात: राज्यपाल