DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

देवीपाटन में गैर लाइसेंसी एवं अधोमानक आरओ इकाइयों को बंद करने के आदेश 

Mandalay, Commissioner, Auditorium, Industries Bandhu, Review Meeting

कमिश्नर एसवीएस रंगाराव ने मंडल के जिलों में बिना लाइसेन्स एवं मानक विहीन पानी आपूर्ति कर रही आरओ इकाइयों को तत्काल बन्द कराने के आदेश दिए हैं। इसके अलावा उद्यमियों की समस्याओं को प्राथमिकता के आधार निस्तारित करने एवं उद्यमियों से अवैध वसूली न हो यह भी सुनिश्चित किया जाय। ये आदेश मंडलायुक्त ने आयुक्त सभागार में उद्योग बन्धु की मण्डलीय समीक्षा बैठक में दिए हैं।
     गोंडा में शुद्ध पेयजल विक्रय हेतु आरओ की कम से कम बीस इकाइयां स्थापित हैं। जिनकी उत्पादन क्षमता दस हजार लीटर है। जबकि जनपद गोण्डा में मात्र छह हजार लीटर आरओ पानी की प्रतिदिन की खपत है। शेष चार हजार लीटर पानी बर्बाद हो जाता है। इसके अलावा आरओ इकाइयां बिना लाइसेन्स के संचालित हो रही हैं, जिनमें निरीक्षण के दौरान लगभग बीस हजार लीटर पानी बिना मानक के पाया गया है। जिसकी आपूर्ति की जा रही। इसके अलावा राजस्व की चोरी भी की जाती है। इसके अलावा प्रदूषण नियंत्राण बोर्ड से नियमानुसार एनओसी भी नहीं प्राप्त की गई है। मण्डलायुक्त ने ऐसी सभी इकाइयों को तत्काल प्रभाव से बन्द करवाने के आदेश दिए हैं। 
मण्डल के जिलों में वाहन अड्डा शुल्क के नाम पर पुलिस विभाग द्वारा अवैध धन उगाही की जाती है। मण्डलायुक्त ने शिकायत का संज्ञान लेते हुए डीआईजी देवीपाटन परिक्षेत्र को प्रभावी कार्यवाही करने के निर्देश दिए हैं। 
    बैठक में अपर आयुक्त प्रशासन ज्वाला प्रसाद तिवारी, संयुक्त आयुक्त उद्योग देवीपाटन मण्डल, हरी राम पाण्डेय उपायुक्त उद्योग, सहायक निदेशक सूचना हंसराज, वाणिज्य कर अधिकारी तथा विद्युत विभाग के अधिकारी सहित मण्डल के जनपदों के उद्यमी उपस्थित रहे।

 

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Order to close non-licensed ro units