DA Image
25 अक्तूबर, 2020|11:20|IST

अगली स्टोरी

विपक्ष ने पूर्व विधायक की हत्या के लिए सरकार को ठहराया जिम्मेदार

default image

- कांग्रेस, सपा व बसपा ने की हत्यारों के तुरंत गिरफ्तारी की मांगप्रमुख संवाददाता- राज्य मुख्यालयलखीमपुर खीरी में पूर्व विधायक निर्वेंद्र कुमार मिश्र उर्फ मुन्ना की हत्या के बाद यूपी की सियासत गर्मा गई है। विपक्ष पार्टियों ने पूर्व विधायक की हत्या पर कानून-व्यवस्था को लकेर आड़े हाथों लिया है। विपक्ष ने कहा है कि राज्य सरकार लोगों की सुरक्षा कर पाने में विफल साबित हो रही है। कांग्रेस, समाजवादी पार्टी और बहुजन समाज पार्टी ने इस हत्याकांड की कड़े शब्दों में निंदा करते हुए दोषियों को तुरंत गिरफ्तार किए जाने की मांग की है।सरकार दोषियों पर सख्त कार्रवाई करे-मायावतीबसपा सुप्रीमो मायावती ने ट्वीट कर इस हत्याकांड की कड़े शब्दों में निंदा की है। उन्होंने कहा है कि यूपी लखीमपुर खीरी के पूर्व विधायक निर्वेंद्र की निर्मम हत्या व इसी जिले में छात्रा की दुष्कर्म के बाद फंदा लगाकर की गई हत्या की घटनाएं अति-दुखद व चिंताजनक हैं। राज्य सरकार दोषियों के खिलाफ ऐसी सख्त कार्रवाई करे जिससे ऐसी दर्दनाक घटनाएं प्रदेश में रुकें।प्रदेश में कायम है जंगलराज : अखिलेशसमाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने लखीमपुर खीरी के निघासन विधानसभा क्षेत्र से पूर्व विधायक की निर्मम हत्या पर गहरा शोक जताते हुए शोक संतप्त परिवार के प्रति संवेदना व्यक्त की है और दोषियों की तत्काल गिरफ्तारी की मांग की है। इस घटना में पूर्व विधायक के पुत्र भी घायल हुए है। अखिलेश ने कहा है कि प्रदेश में भाजपा का जंगलराज कायम है। किसान लगातार जानें गंवा रहे हैं। नोएडा में 5 महीने में (अप्रैल से अगस्त 2020 तक) 145 आत्म हत्याएं दर्ज हुईं। सीतापुर के महोली में किसान रामचन्द्र वर्मा की गला रेतकर हत्या कर दी गईं। अमेठी के गौरीगंज में किसान को जिंदा जला दिया गया। हत्या, लूट अपहरण और छेड़छाड़ की घटनाएं तो रोज की बात हो गई है। इन पर कोई लगाम नहीं लगी है।प्रदेश में जनप्रतिनिधि तक नहीं सुरक्षित-अजय कुमार लल्लूलखीमपुर खीरी में पूर्व विधायक निर्वेन्द्र कुमार मिश्र की मौत को कांग्रेस ने हत्या करार दिया है। कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू ने कहा है कि लखीमपुर खीरी में ही सिर्फ 15 दिनों के अन्दर 15 से अधिक हत्याएं हो चुकी हैं। यह जंगलराज है, जिसमें जनप्रतिनिधि तक सुरक्षित नहीं है, आम आदमी की सुरक्षा की तो आप कल्पना भी नहीं कर सकते। एमएलसी दीपक सिंह ने कहा है कि भाजपा सरकार अपराध मुक्त प्रदेश बनाने में पूरी तरह असफल रही है। पूर्व विधायक निर्वेन्द्र मिश्र की हत्या यह संकेत देती है कि प्रदेश में अपराधी कितने बेख़ौफ़ हैं। उनके मन में कानून का न तो भय है, न ही कोई चिंता।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Opposition holds government responsible for killing former MLA