DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

प्रवासी भारतीय दिवस 21 से 23 जनवरी को वाराणसी में-मुख्यमंत्री

-वाराणसी में 21 से 23 जनवरी 2019 को होने वाले स्टेट सेशन, पैरलेल स्टेट सेशन, चीफ मिनिस्टर कान्फ्रेंस, यूथ पीबीडी उद्घाटन तथा समापन सत्र होंगे-प्रधानमंत्री करेंगे उद्घाटन -विभिन्न स्थलों के लिए नोडल / लायज़न आफिसर्स की नियुक्ति हों-वाराणसी व इलाहाबाद में प्रवासी भारतीयों की सुविधा के लिए प्रोटोकाल, सुरक्षा तथा चिकित्सा की समुचित व्यवस्था की जाएविशेष संवाददाता- राज्य मुख्यालयप्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सोमवार को लखऩऊ में 15 वें प्रवासी भारतीय दिवस-2019 के आयोजन की तैयारी बैठक की। यह दिवस जनवरी 21-23, 2019 के मध्य वाराणसी में होगा। बैठक में आयोजन से जुड़े वरिष्ठ अधिकारियों ने मुख्यमंत्री को तैयारियों की विस्तृत जानकारी दी। अधिकारियों ने बताया कि लगभग 7000 प्रवासी भारतीयों के आने का अनुमान है। उनके भोजन इत्यादि की व्यवस्था, स्थानीय भ्रमण की व्यवस्थाओं तथा उन्हें उपलब्ध कराई जाने वाली सुविधाओं के बारे में उन्हें बताया गया। मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को निर्देश दिए कि मौसम का ध्यान रखते हुए सारी व्यवस्थाएं की जाएं। इसके सफल बनाने के लिए अभी से योजनाबद्ध तरीके से काम करना जरूरी है। उन्होंने अधिकारियों को इस आयोजन के लिए भारत सरकार के जुड़े मंत्रालयों व अधिकारियों से समन्वय करें। अधिकारियों ने बताया कि प्रवासी भारतीय दिवस के प्रस्तावित कार्यक्रम के तहत वाराणसी में 21 से 23 जनवरी 2019 को होने हैं। इसमें उद्घाटन सत्र, स्टेट सेशन, पैरलेल स्टेट सेशन, चीफ मिनिस्टर कांफ्रेंस, यूथ पीबीडी तथा समापन सत्र होंगे। प्रधानमंत्री की ओर से उद्घाटन सत्र के उपरान्त भोज का आयोजन किया जाएगा, जबकि आयोजन के तीसरे दिन 23 जनवरी, 2019 को के राज्यपाल की ओर से लन्च का आयोजन होगा। अधिकारियों ने बताया कि आयोजन के विभिन्न सत्रों के लिए नोडल अधिकारियों को नियुक्त किया जाएगा। इस आयोजन के लिए ‘ईवेन्ट पार्टनर और ‘मीडिया पार्टनर के चयन और इस दौरान सम्पन्न होने वाले सांस्कृतिक कार्यक्रमों के विषय में भी अधिकारियों द्वारा अवगत कराया गया।अधिकारियों ने बताया कि भाग लेने वाले प्रवासी भारतीयों को वाराणसी से इलाहाबाद लाने के लिए 10 विषेष ट्रेनों का संचालन प्रस्तावित है। बैठक में आयोजन के लिए बजट के विषय में भी चर्चा की गई। साथ ही, उद्योग बन्धु को पीबीडी-2019 के लिए नोडल एजेन्सी नामित किए जाने के संबंध में विचार किया गया।बैठक के दौरान भारत सरकार की ओर से विदेश राज्य मंत्री जनरल (सेवानिवृत्त) डा वी0के0 सिंह, एडिशनल सेक्रेटरी एडी संजय कुमार वर्मा, ज्वाइंट सेक्रेटरी ओआईए-2 मनोज कुमार महापात्रा, अण्डर सेक्रेटरी विमर्श आर्यन तथा अण्डर सेक्रेटरी राजीव कुमार जैन शामिल थे। इस अवसर पर राज्य सरकार की ओर से एनआरआई विभाग की राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) स्वाती सिंह, मुख्य सचिव राजीव कुमार, अवस्थापना एवं औद्योगिक विकास आयुक्त अनूप चन्द्र पाण्डेय, प्रमुख सचिव सूचना एवं पर्यटन अवनीष कुमार अवस्थी, मण्डलायुक्त वाराणसी, इलाहाबाद तथा विषेष सचिव एनआरआई आलोक कुमार पाण्डेय सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारी मौजूद रहे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:NRI