DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

निरहुआ का अखिलेश यादव पर निशाना, परिवारवाद को मिटाने की अपील

विशेष संवाददाता--राज्य मुख्यालय आज़मगढ़ के जहानगंज रामपुर में स्थित पूर्व प्रधानमंत्री चंद्रशेखर स्मारक ट्रस्ट के तत्वावधान में युवा तुर्क चंद्रशेखर की 93वीं जयंती मनाई गई। इस मौके पर आयोजित संगोष्ठी में भाजपा के सांसद प्रत्याशी और भोजपुरी फिल्म स्टार दिनेश लाल यादव निरहुआ ने कहा कि राष्ट्र सर्वोपरि है चंद्रशेखर जी ने देश के नाम पर कभी कोई समझौता नहीं किया। उन्हें सत्ता से नहीं बल्कि देश से प्यार था। निरहुआ ने अपने प्रतिद्वंद्वी प्रत्याशी अखिलेश को निशाने पर लेते हुए जातिवाद, परिवारवाद और धर्मवाद के नारे को मिटाकर राष्ट्रवाद के नारे को सार्थक करने की अपील की। संगोष्ठी को संबोधित करते हुए पूर्व मंत्री व एमएलसी यशवंत सिंह ने कहा कि समाजवाद का मतलब सबका उदय है, समाज के अंतिम आदमी का उदय है, सबका साथ-सबका विकास है। राष्ट्रपरुष चन्द्रशेखर को भावभीनी श्रद्धाजंलि अर्पित करते हुए श्री सिंह ने कहा कि डा. लोहिया ने नारा दिया था, पावें पिछड़े सौ में साठ...। उन्होंने अखिलेश यादव को निशाने पर लेते हुए कहा कि इस नए राजा का नारा है- हम, हमारी पत्नी, हमारा परिवार। इस नई रानी का नारा है-एक नारायण - नकद नारायण। उन्होंने कहा कि इन नए राजा-रानी के वर्चस्व के रथ को रोक देना ही राष्ट्रपुरुष चन्द्रशेखर को सच्ची श्रद्धांजलि है। श्री सिंह ने कहा कि सौभाग्य से हम, हमारी पत्नी, हमारा परिवार के नए राजा आज़मगढ़ से उम्मीदवार हैं। हमारे पास कमल का बटन दबाकर उन्हें यह बताने का अवसर है कि आज़मगढ़ पावें पिछड़े सौ में साठ का समर्थक है। हम, हमारी पत्नी और हमारा परिवार का समर्थक नहीं है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:nirhauaat ex PM chandra shekher memorial