news - काव्यपाठ के जरिए समाज की सोच पर की चोट DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

काव्यपाठ के जरिए समाज की सोच पर की चोट

default image

जनवादी लेखक संघ की ओर से शनिवार को निशातगंज स्थित कैफ़ी आज़मी एकेडमी में 'लखनऊ में कविता' कार्यक्रम का आयोजन किया गया। कार्यक्रम कि अध्यक्षता वरिष्ठ कवयित्री कात्यायनी ने की। कार्यक्रम में एक-एक कर कवियों ने काव्यपाठ किया। सबसे पहले शिवम गर्ग ने 'मां' पर अपनी लिखी कृति को सुनाकर सभी की वाहवाही लूटी इसके बाद माधव महेश ने 'बच्चे तो मरते ही हैं' कविता को पढ़कर समाज में बच्चों कि स्थिती पर चोट की। सुशीला पुरी ने 'आदमी और देवता', 'अंधेरा है कि बढ़ता ही जा रहा है' सुनाकर वाहवाही लूटी। इस अवसर पर नलिन रंजन सिंह, ज्ञानप्रकाश चौबे, सीमा सिंह,संजय मिश्र, अनिल त्रिपाठी मौजूद रहे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:news