DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

भरतनाट्यम की एकल प्रस्तुति ने बांधा समां

लखनऊ। निज संवाददाता

रिद्म डिवाइन इंस्टीट्यूट की ओर से शुक्रवार को गोमतीनगर स्थित संगीत नाटक अकेडमी में गुरु-शिष्य परंपरा पर आधारित एकल भरतनाट्यम प्रस्तुति ने सभी दर्शकों को मंत्रमु्ग्ध कर दिया। नृत्यांगना मान्या खरे ने एक-एक कर भरतनाट्यम की भाव मुद्राओं से सभी का दिल जीत लिया। कार्यक्रम में बतौर मुख्य अतिथि महापौर संयुक्ता भाटिया मौजूद रही। इसके साथ संगीत नाट्य अकेडमी के तरूण राज, समाजसेविका सुधा प्रकाश और ज्ञानेन्द्र डी वाजपेई मौजूद रहे। इस अवसर पर नृत्यांगना मान्या खरे ने अपने गुरु अमृत सिंहा को पुष्पगुच्छ देकर उनका आशीर्वाद लिया तो वहीं अमृत सिंहा ने अपनी शिष्या को कलानिधि की उपाधी देकर सम्मानित किया।

-कृष्णलीला और दुर्गा स्तुति नृत्य प्रस्तुति ने बांधा समां

सरस्वती वंदना से कार्यक्रम का आगाज़ कर एक-एक कर अपने नृत्य से ईश्वर के विभिन्न रूपों के गुरों का बखान किया तो उस समय दर्शक इकटक प्रस्तुति को निहारते नजर आए। भगवान कृष्ण की लीलाओं को नृत्य पर भावों संग भरतनाट्यम प्रस्तुति जब नृत्यांगना ने दी तो सभी ने तालियों संग उनका उत्साहवर्धन किया। भगवान विष्णु, मां दुर्गा और शिव स्तुति को नृत्य में पिरोकर पेश कर पूरे समां को एक सूत्र में बांध दिया। संगीत और गायन में अमृत सिन्हा, कार्तिक, कोलकत्ता के सूर्यनारायण और अलका ठाकुर ने संगत दी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:news