news - कामकाज- आउटसोर्सिंग कर्मचारियों की सेवानियमावली का ड्राफ्ट तैयार DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कामकाज- आउटसोर्सिंग कर्मचारियों की सेवानियमावली का ड्राफ्ट तैयार

- लेबर एक्ट तथा वेतन आयोग की संस्तुतियों को ध्यान में रखकर तैयार किया गया- राज्य कर्मचारी संयुक्त परिषद के महामंत्री अतुल मिश्रा ने जानकारी दीलखनऊ। कार्यालय संवाददाताआउटसोर्सिंग कर्मचारियों को न्यूनतम वेतन व सेवा नियमावली को लेकर एक ड्राफ्ट तैयार किया गया है, जो लेबर एक्ट तथा वेतन आयोग की संस्तुतियों को ध्यान में रखते हुये तैयार की गई है। जिसे अंतिम रूप से तैयार करके मंत्रिपरिषद के समक्ष रखा जायेगा। यह जानकारी राज्य कर्मचारी संयुक्त परिषद के महामंत्री अतुल मिश्रा ने दी। उन्होंने कहा कि पिछले दिनों मुख्य सचिव डा. अनूप चन्द्र पांडेय की अध्यक्षता में राज्य कर्मचारी संयुक्त परिषद की बैठक हुई थी। उस वक्त परिषद के अध्यक्ष सुरेश रावत ने कहा कि ऐसे संविदा कर्मचारियों को सेवा सुरक्षा, न्यूनतम वेतन, बोनस, बीमा, पेंशन व मृतक आश्रित नियमावली का लाभ आदि सभी सुविधाएं दिया जाये। साथ ही विभागों में उनकी वरिष्ठता सूची बनाने की मांग की थी। इसके अलावा आउटसोर्सिंग कर्मचारियों की नियुक्ति के लिये सेवायोजन कार्यालय में अपना रजिस्ट्रेशन कराना अनिवार्य होगा। सेवा प्रदाता को भी रजिस्ट्रेशन कराना होगा। ऐसे कर्मचारियों को एजेंसी नहीं हटा पाएगी। यदि किसी को अनुशासनात्मक कारणों से सेवा मुक्त करना होगा तो उसके लिये नियुक्ति अधिकारी की अध्यक्षता में समिति दोनों पक्षों को सुनाकर निर्णय करेगी। इसके बाद मुख्य सचिव ने अपर मुख्य सचिव नियुक्ति एवं कार्मिक मुकुल सिंघल को निर्देश दिया था कि विभागों में भारी संख्या में एजेंसी के माध्यम से रखे गये कर्मचारियों की सेवा सुरक्षा, विनियितिकरण, न्यूनतम वेतन व भत्ते देने के लिये सेवा नियमावली बनाई जाये।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:news