class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

केजीएमयू में जांच के नाम पर मरीजों से लूट की तैयारी

-पीजीआई व लोहिया संस्थान से ज्यादा दरों में केजीएमयू नहीं करेगा कटौती

-गरीब मरीजों के इलाज में रोड़े अटकाने की तैयारी

लखनऊ। कार्याल संवाददाता

केजीएमयू में जांच के नाम पर गरीबों से लूट की तैयारी है। महंगी जांच के नाम पर मरीजों से अनाप-शनाप कीमत वसूली जा सकती है। केजीएमयू में तमाम ऐसी जांचें हैं जिनका शुल्क पीजीआई से अधिक है। इनमें पैथोलॉजी और रेडियोलॉजी दोनों विभागों की जांचें शामिल हैं।

25 से 30 प्रतिशत तक होगा कीमतों में इजाफा

केजीएमयू में खून की करीब 200 तरह की जांच की सुविधा है। रेडियोलॉजी की 30 तरह की जांचें हैं। केजीएमयू प्रशासन 25 से 30 प्रतिशत पैथोलॉजी व रेडियोलॉजी की जांचों का शुल्क बढ़ाने की तैयारी कर रहा है। इस संबंध में केजीएमयू प्रशासन ने कमेटी गठित कर दी है। इसमें केजीएमयू सीएमएस डॉ. एसएन शंखवार, वित्त अधिकारी और चिकित्सा अधिकारी डॉ. विजय कुमार समेत संबंधित विभाग के अधिकारी शामिल हैं। जनवरी से मरीजों को बढ़ी दरें चुकानी पड़ सकती हैं।

मरीज झेलेंगे

केजीएमयू प्रशासन ने नियमानुसार जब पीजीआई के बराबर शुल्क किया जा रहा है तो सारी जांचों में यही व्यवस्था लागू किया जाना चाहिए। यानी की जिनका शुल्क पीजीआई से ज्यादा है उनके शुल्क में कटौती भी होनी चाहिए। इस संबंध में केजीएमयू की तरफ से कोई कदम नहीं उठाया जा रहा है। इस संबंध में कमेटी को कोई दिशा-निर्देश भी नहीं दिए गए हैं। इसका खामियाजा गरीब मरीजों को भुगतना पड़ सकता है।

अलग-अलग हैं दरें

केजीएमयू में भर्ती मरीजों की जांच का शुल्क अलग है। यदि कोई मरीज जनरल के बजाए प्राइवेट वार्ड में भर्ती तो उसका शुल्क अधिक होगा। जनरल में भर्ती मरीजों की जांच की दरें अलग होंगी। वहीं प्राइवेट अस्पताल में भर्ती मरीजों की जांच के लिए अलग से शुल्क की दरें मुकर्रर हैं।

केजीएमयू में 25 प्रतिशत जांच शुल्क बढ़ाने के बाद

जांच पुराने रेट संभावित नई दरें

सीरम एमलेस 300 375

सीरम लिपिड प्रोफाइल 300 375

टी3, टीएस, टीएसएच 380 475

सीरम आयरन टीबीसी 150 87

सीरम अल्फा फैटो प्रोटीन 350 437

कप्लीट सीरम आयरन प्रोफाइल 300 375

विटामिन डी 900 1125

सिटी स्कैन 500 625

एमआरआई 3500 4375

एक्सरे 100 125

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:news
सुरों ने कराया महसूस, शास्त्रीय संगीत सुरक्षित हाथों में मौजूद20 दिसम्बर से शुरू होगा फोरलेन सड़क का निर्माण कार्य