class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मुकेश मनवानी हत्याकाण्ड के आरोपी ने समर्पण किया

25 अगस्त को नाका में हुई थी हत्या, उन्नाव पुलिस कर रही है विवेचनालखनऊ। विधि संवाददातानाका में होटल कारोबारी मुकेश मनवानी की हत्या के आरोप में फरार चल रहे मंजीत सिंह दुआ ने मंगलवार को प्रभारी सीजीएम इन्द्र प्रकाश की कोर्ट में समर्पण कर दिया। कोर्ट ने उसे 14 दिन की न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया। इस मामले में अब सभी आरोपी जेल में है। 25 अगस्त को मुकेश मनवानी की हत्या उस समय कर दी गई थी जब वह विवादित स्थान पर एक दीवार का निर्माण करा रहे थे। इस मामले में मुकेश के घर वालों ने पांच लोगों को नामजद कराया था। दो का नाम विवेचना के बाद सामने आया था। इस मामले की विवेचना पहले नाका कोतवाली से लेकर महानगर पुलिस को दी गई थी, फिर एडीजी अभय प्रसाद ने परिवारीजनों की मांग पर इसकी विवेचना उन्नाव पुलिस को दे दी थी। इस समय यहां के सफीपुर कोतवाली के इंस्पेक्टर अरुण कुमार द्विवेदी इसकी विवेचना कर रहे हैं। अरुण द्विवेदी ने मंजीत की गिरफ्तारी के लिये कई बार लखनऊ में दबिश दी। फिर पता चला कि उसने पंजाब में शरण ले ली है तो पुलिस ने वहां भी उसकी तलाश शुरू कर दी थी। सफीपुर पुलिस के दबाव में ही आरोपी समर्पण करने पर मजबूर हो गया। आज बयान लेगी उन्नाव पुलिसमंजीत के बयान लेने के लिये बुधवार को विवेचक अरुण कुमार द्विवेदी लखनऊ आयेंगे। वह मंजीत के बयान लेकर कुछ और जानकारियां जुटाने का प्रयास करेंगे। पुलिस का कहना है कि जरूरत पड़ेगी तो आरोपियों को रिमांड पर भी लिया जायेगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:naka
सिम बॉक्स बेचने वालों की पुलिस कर रही तलाशचाइल्ड टूरिज्म फेस्ट व शॉपिंग कार्निवाल का रंगारंग समापन