DA Image
15 जुलाई, 2020|12:54|IST

अगली स्टोरी

एमएसएमई सेक्टर से 23 निवेश प्रोजेक्टस का होगा शिलान्यास

ग्राउंड ब्रेकिंग सेरेमनी-2 में लगभग 23 एमएसएमई (सूक्ष्म, लघु व मध्यम उद्योग) सेक्टर से जुड़े 23 प्रोजेक्ट का शिलान्यास कराया जाएगा। यह बात औद्योगिक विकास व सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम तथा निर्यात प्रोत्साहन विभाग के मंत्री सतीश महाना ने कहे।

शुक्रवार को विभागीय समीक्षा बैठक में उन्होंने निर्देश दिये कि जो इकाइयां कार्य शुरू करने की स्थिति में हैं और कुछ क्लीयरेंस आदि नहीं मिलने से वह ग्राउंड ब्रेकिंग सेरेमनी में हिस्सा नहीं ले पा रही हैं, तत्काल उनकी दिक्कतों को दूर कराया जाए। उन्हें भी सेरेमनी में शामिल करने का कार्य प्राथमिकता से किया जाए। इसमें किसी भी प्रकार की लापरवाही व उदासीनता नहीं बरती जानी चाहिए। उन्होंने कहा कि पारम्परिक कारीगरों की सेवाएं आनलाइन लोगों तक पहुंचाने की कार्ययोजना तैयार करायी जाए और इसे 10 जिलों में पायलेट प्रोजेक्ट के रूप में शुरू किया जाए। इससे जहां आमजन को सर्टिफाइड मैन पावर की सेवाएं उपलब्ध होंगी, वहीं रोजगार के माध्यम भी प्रशस्त होंगे।उन्होंने कहा कि रिटेल स्टोर्स के माध्यम से ओडीओपी ब्रांडिंग योजना जल्द लागू की जायेगी। इसके तहत प्रत्येक जनपद के चयनित उत्पादों के लिए प्रदेश और राष्ट्रीय स्तर पर रिटेल दुकानों में स्थान/शेल्फ को आरक्षित कराया जाएगा। इस वर्ष लगभग 350 ओडीओपी स्टोर्स खोले जाने की योजना है।उन्होंने लखनऊ में निर्माणाधीन डिजाइनिंग इंस्टीट्यूट के भवन को जल्द से जल्द पूरा कराने के सख्त निर्देश भी दिये। एमएसएमई विभाग के सचिव भुवनेश कुमार ने कहा कि एमएसएमई से खादी और हथकरघा के सामानों को सरकारी विभागों में खरीद के लिए अनिवार्य किया जाए।