motivejars club - गुरु के समान है हमारे बड़े बुजुर्ग DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

गुरु के समान है हमारे बड़े बुजुर्ग

- कई तरह के खेलों में बुजुर्गों ने लिया हिस्सा

लखनऊ। निज संवाददाता

गुरु हमारे जीवन को सही दिशा देते है, उनके मार्ग दर्शन से ही जीवन सफल होता है। जिस तरह छात्र छात्राओं के जीवन में गुरु का महत्व होता है वैसे ही हमारे पूरे समाज में बुजुर्गों का दर्जा है। अगर घर में एक मां बाप या कोई बुजुर्ग है तो उस घर के बच्चे समाज की बुराईयों से दूर रहते है। यह बातें क्लब के फाउंडर गौरव छाबड़ा ने कही। रविवार को समाज में बुजुर्गों के महत्व को बताते हुए मोटिवेजर्स क्लब की ओर से कार्यक्रम का आयोजन गोमती नगर स्थित एक कैफे में किया गया।

गुरु हमारे भविष्य के निर्माता है

गुरु पूर्णिमा से पूर्व मोटिवेजर्स क्लब की ओर से गुरु पूर्णिमा कार्यक्रम का आयोजन हुआ। जिसमें आए बुजुर्गों ने कहा कि मनुष्य के जीवन में सबसे ऊंचा दर्जा गुरु को ही दिया गया है। गुरुओं द्वारा दी गई नैतिक शिक्षा से उनके जीवन में बदलाव आता है जो समाज में सार्थक बदलाव लाता है। आज इस भागदौड़ भरी जिंदगी में हम अपने जीवन की नैतिक शिक्षाएं भूल चुके है। कैसे हम आज के समाज को नैतिक मूल्यो के बारे में बता कर उनका भविष्य उज्जवल कर सकते हैं। वो एक गुरु ही बता सकता है। क्लब के मेंबर्स ने समाज में बढ़ रही कुरीतियों को ख़त्म करने के लिए अपने गुरु और उनसे मिले ज्ञान को साझा किया और बताया कि कैसे एक बेहतर जीवन व्यतीत किया जा सकता हैं।

गेम्स का हुआ आयोजन

कार्यक्रम में कई तरह के खेलों का आयोजन किया गया। जिसमे बुज़ुर्गों बढ़ चढ़ कर हिस्सा लिया। गेस द वर्ड में बुज़ुर्गों की दो टीम बनाई गयी और उसमें टीम ए विजयी रही। गेम्स के विजेताओं को पुरुस्कृत किया गया। कार्यक्रम में आस्था सिंह, वैभव सिंह समेत शिखर, वैभव सिंधी समेत कई लोग मौजूद रहे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:motivejars club