DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मिशन-2019 : मोदी ने कांग्रेसी गढ़ में दिया विपक्ष को विकास से घेरने का मंत्र

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने मिशन-2019 का आगाज रविवार को कांग्रेस के गढ़ से कर दिया। भाजपा लोकसभा चुनाव में कांग्रेस के इस किले को भेदने की कवायद में इस संसदीय क्षेत्र में किए गए विकास के एजेंडे को भुनाएगी। 
   पीएम के रायबरेली आने पर भाजपा ने यह जता दिया कि 2014 में कांग्रेस की जीती रायबरेली व अमेठी समेत विपक्ष की झोली में गई यूपी की सात लोकसभा सीटों को जीतने के लिए कोई कसर नहीं छोड़ेगी। 
राफेल और कर्जमाफी पर कांग्रेस को झूठा बनाएगी: राफेल पर कांग्रेस के आरोपों पर सुप्रीम कोर्ट से राहत पाए पीएम मोदी ने यह भी तय किया कि वे कांग्रेस के आरोपों का 2019 के लोकसभा चुनावों में खुद ही नहीं, बल्कि अपनी पार्टी के बड़े नेताओं से मुद्दा बनवाएंगे। 
पार्टी ने इसकी शुरुआत सोमवार से कर दी है। केन्द्रीय नेतृत्व की इसी मंशा के मद्देनज़र राफेल पर कांग्रेस के आरोपों का जवाब देने के लिए भाजपा के बड़े नेताओं ने प्रेस कांफ्रेंस की। इसके अलावा किसानों की कर्जमाफी के अहम मुद्दे पर छत्तीसगढ़, मध्य प्रदेश और राजस्थान में पिछली कांग्रेस सरकारों द्वारा की गई वादाखिलाफी को भी मुद्दा बनाएगी। 
रायबरेली में रेल कोच फैक्टरी रहेगी मुद्दा, सैनिकों के परिवारों को भी जोड़ने की कोशिश
मोदी रायबरेली संसदीय क्षेत्र में पहली बार आए थे। पहली यात्रा में उन्होंने  सपा-बसपा नहीं, सिर्फ कांग्रेस और उसके शीर्ष नेताओं पर ही निशाना साधा। पीएम मोदी ने रेल कोच फैक्टरी के स्पोर्ट्स मैदान से अपनी सरकार के कामों से रायबरेली की जनता को लुभाने की कोशिश की। यह भी जताया कि गांधी परिवार से बरसों से जुड़ी रायबरेली सीट के मतदाताओं के साथ पिछली कांग्रेस की सरकारों ने वादाखिलाफी की और किस प्रकार धोखा किया। 
पीएम ने 2007 में स्थापित रेल कोच फैक्टरी में सात साल तक कोई काम न होने को भी मुद्दा बनाया। इस बहाने उन्होंने यह जताने की कोशिश की कि कांग्रेस ने युवाओं को रोजगार देने के लिए कुछ नहीं किया बल्कि भाजपा रायबरेली में रोजगार के लिए बड़ा प्रयास कर रही है। मोदी ने अपने अंदाज में रायबरेली के संत व विभिन्न क्षेत्रों की विभूतियों महर्षि जमदग्नि, वीरा पासी, माधव बख्शी, जायसी, महावीर प्रसाद द्विवेदी और बेनी माधव से लेकर इस सीट पर इंदिरा गांधी को हराने वाले खाटी समाजवादी नेता राज नारायण का भी जिक्र कर जातीय सियासी दांव भी खेला। जवान और किसान का जिक्र करते हुए रायबरेली ही नहीं पूरे देश की जनता को संदेश देने की कोशिश की कि किस तरह कांग्रेस ने सेना और किसानों को छला।
 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Modi mantra to surround development in the Congress stronghold