DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

तीन पाकिस्तानियों के साथ दाऊद का गुर्गा गिरफ्तार

काठमांडू के त्रिभुवन अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट से सात करोड़ 67 लाख नकली भारतीय करेंसी बरामदतीन पाकिस्तानियों के साथ दाऊद का गुर्गा गिरफ्तारसफलतानेपाल के पूर्व कैबिनेट मंत्री सलीम मियां अंसारी का बेटा है शातिर यूनुसकरोड़ों की भारतीय नकली नोटों संग तीन पाकिस्तानियों सहित छह गिरफ्तार, इनमें एक पाकिस्तानी युवती भी शामिलसोनौली (महराजगंज)/रुपईडीहा (बहराइच) | हिन्दुस्तान टीमभारतीय सुरक्षा एजेंसियों की सूचना पर नेपाल पुलिस ने शुक्रवार की सुबह काठमांडू के त्रिभुवन इंटरनेशनल एयरपोर्ट से 7 करोड़ 67 लाख 94 हजार के जाली भारतीय नोटों के साथ दाऊद के गुर्गे युनूस अंसारी समेत छह लोगों को गिरफ्तार कर लिया। इनमें तीन पाकिस्तानी और तीन नेपाली नागरिक हैं। तीन ब्रीफकेस में दो-दो हजार के नकली भारतीय नोट करीने से रखे गए थे। एयरपोर्ट कर्मियों की ओर से जांच करने के दौरान यह रकम कस्टम चीफ गजेन्द्र ठाकुर ने बरामद करने की पुष्टि की है। भारतीय सुरक्षा एजेंसियों को सूचना मिली थी कि पाकिस्तान से कुछ लोग नकली भारतीय करेंसी लेकर शुक्रवार को कतर एयरवेज की फ्लाइट से काठमांडू पहुंचने वाले हैं। ये जाली नोट भारत में भेजे जाने थे। इस सूचना पर नेपाल पुलिस सतर्क हो गई। एयरपोर्ट के आसपास चौकसी बढ़ा दी गई। दिन में करीब 11 बजे पाकिस्तान से दोहा होते हुए कतर एयरवेज की फ्लाइट काठमांडू पहुंची। इसी बीच भारतीय जाली नोटों का कारोबार करने वाले नेपाल के पूर्व मंत्री सलीम मियां का बेटा यूनुस सुरेश आले मगर व सुहेल खान के साथ दिख गया। कस्टम चीफ के मुताबिक एयरपोर्ट पर पुलिस प्रमुख एसएसपी संदीप भण्डारी के अनुसार इन तीनों के साथ ही पाकिस्तान से आए नसीरुद्दीन, मोहम्मद अतहर व नादिया अनवर को भी हिरासत में ले लिया। एयरपोर्ट स्थित सुरक्षा कार्यालय के डीएसपी नारायण रंजीतकार के अनुसार इनके पास से 7 करोड़ 67 लाख 94 हजार भारतीय नकली करेंसी दो-दो हजार के जाली नोटों के रूप में तीन ब्रीफकेस में बरामद हुई। यूनुस अंसारी बीते कई वर्षो से भारतीय नकली नोटों का कारोबार करता आ रहा है। इसके पूर्व 6 साल पहले यूनुस अंसारी नकली नोटों के कारोबार में पकड़ा गया था। उस समय इसके ललितपुर स्थित आवास से 35 लाख भारतीय नकली नोट बरामद हुए थे। अंसारी के साथ पाकिस्तानी नागरिक महमूद अहमद, नेपाली नागरिक सुरेश आले मगर व सुहेल को भी गिरफ्तार किया था। लगभग दो माह बाद ही यह काठमांडू के केन्द्रीय कारागार से रिहा हो गया था। कौन है युनूस अंसारी: यूनूस अंसारी नेपाल के पूर्व कैबिनेट मंत्री सलीम मियां अंसारी का पुत्र है। सलीम मियां रुपन्देही से सांसद रहे और नेपाल सरकार में कैबिनेट मंत्री रह चुके हैं। यूनुस काफी समय से भारतीय नकली नोटों की तस्करी में संलिप्त है। अभी 11 जनवरी को भी उसे पुलिस ने नकली नोटों की खेप के साथ गिरफ्तार किया था। चार महीने जेल में रहा। लेकिन सबूतों के अभाव में उसे बाद में बरी कर दिया गया। छोटा राजन ने यूनुस पर जेल में चलवाई थी गोलीनकली नोटों की तस्करी के मामले में यूनुस काठमांडू की जेल में बंद था। वहां 10 मार्च 2011 में छोटा राजन के गुर्गों ने गोली मार दी। गंभीर हालत में यूनुस को मेडिकल कॉलेज ले जाया गया। वहां इलाज के बाद वह स्वस्थ हुआ। इसके बाद भी वह नकली नोटों की तस्करी में लग गया।रविराज की गिरफ्तारी के बाद नेपाल में डी कंपनी का संभाल लिया काममुंबई ब्लास्ट के आरोपित दाऊद इब्राहिम के करीबी गुर्गे रविराज सिंह को नेपाल की राजधानी काठमांडू से चार जनवरी 2018 को गिरफ्तार किया गया था। रविराज नेपाल में दाऊद का सबसे बड़ा चेहरा माना जाता था। नेपाल से जाली नोटों का कारोबार चलाने में इसकी मुख्य भूमिका थी। उसके बाद यूनुस ने नकली नोटों के कारोबार को संभाल लिया। सुरक्षा एजेंसियों के अनुसार उसका सीधा संपर्क दाऊद के राइट हैंड इकबाल मिर्ची, सुनील दुबई और बट्का से था। जाली भारतीय करेंसी का ट्रांजिट प्वाइंट बना नेपालरुपईडीहा। नकली भारतीय नोटों के अन्तर्राष्ट्रीय तस्करों के लिए नेपाल की राजधानी काठमांडू एयरपोर्ट ट्राजिंट प्वाइंट बन चुका है। हालांकि नेपाली पुलिस ने जाली नोटों सहित कई तस्करों को गिरफ्तार भी किया है। इससे पूर्व भी कई बार इस मामले से जुड़े तस्करों को गिरफ्तार कर जेल भेजा जा चुका है। अभी हाल में ही पाकिस्तान के जरिए नेपाल को पहुंचना वाला यह भारतीय नकली नोटों की खेप फिलहाल इस साल का ताजा मामला है। भारतीय नकली नोटों की तस्करी पर एक नजर12 अगस्त 2011 को 55 लाख भारतीय जाली नोटों सहित 2 पाकिस्तानी नागरिक पकड़े गए22 दिसंबर 2011 को 1 करोड़ 55 लाख जाली भारतीय नोटों के साथ एक फिलीपिंस, एक भारतीय व 1 नेपाली नागरिक4 अप्रैल 2011 को 1 करोड़ जाली भारतीय नोटों के साथ 1 वियतनामी नागरिक गिरफ्तार7 अगस्त 2012 को 29 लाख के जाली भारतीय नोटों सहित 2 पाकिस्तानी व 1 नेपाली नागरिक28 मई 2012 को 10 लाख भारतीय जाली नोटों के साथ 1 नेपाली मजदूर7 मार्च 2013 को 48 लाख 56 हजार भारतीय जाली नोटों के साथ 2 पाकिस्तानी व 2 नेपाली नागरिक 8 मार्च 2013 को 7 हजार जाली भारतीय नोटों के साथ 1 नेपाली नागरिक पकड़ा गया17 अप्रैल 2013 को 47 लाख 28 हजार 5 सौ जाली भारतीय नोटों के साथ एक पाकिस्तानी महिला गिरफ्तार हुई।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:mahrajganj bahraich