class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

रसूल की विलादत पर मनाया गया एकता सप्ताह

लखनऊ। कार्यालय संवाददाता

रसूल की विलादत पर कुंडरी रकाबगंज स्थित मस्जिद मिर्जा आबिद में शिया व सुन्नी ने मिलकर महफिल का आयोजन किया। साथ ही इसे एकता सप्ताह के रूप में मनाया। महफिल का आगाज तिलावतें कुरान ए पाक से सुन्नी उलमा कारी फुरकान ने किया जबकि महफिल को मौलाना हैदर अब्बास ने खिताब किया। मौलाना ने कहा कि रसूल हमारे लिए नमूना ए अमल है। लोगों किस तरह प्यार से बोला जाए, कैसे उनकी मुसीबतों में काम आया जाए। ये शिक्षा हमको रसूल ने ही दी है।

महफिल में सुन्नी धर्मगुरु मौलाना हाफिज मोहम्मद उमैर ने रसूल की जिंदगी पर रोशनी डाली और लोगों से अच्छे रिश्तें बनाने की बात कही। सुन्नी धर्मगुरु शहबाज तालिब ने कहा कि रसूल ने हमेशा लोगों से मिलजुल कर व शांति से रहने को कहा है। रसूल ने लोगों के साथ नरमी से पेश आने और परेशानी में एक दूसरे की मदद करने की बात कही है। इसके बाद शायरों ने रसूल की शान में अपने नात पेश की। इस मौके पर सभासद आदिल, जावेद सिद्दीकी, इमरान सिद्दीकी, समी हसन रिजवी मौजूद थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:mahfil
अब आवासीय का व्यवसायिक उपयोग करने वालों की खैर नहींरोडवेज बस ने मासूम को कुचला, लोगों ने जाम किया हाईवे