DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

तबेला हटाने पहुंचे कर्मचारियों को पार्षद के बेटे ने पीटा

गाड़ी में लदी सभी भैंसे उतरवायीं, कर्मचारियों को दोबारा पकड़ने आने पर दी जान से मारने की धमकी, दो कर्मचारियों को आयी चोट

लखनऊ। प्रमुख संवाददाता

काकोरी क्षेत्र में भैंस के तबेले हटाने पहुंचे नगर निगम के कैटिक कैचिंग दस्ते के कर्मचारियों की बुधवार को कन्हैया माधोपुर वार्ड की पार्षद रखशाना के बेटे ने पिटायी कर दी। सफारी कार से अपने समर्थकों के साथ पहुंचे पार्षद के बेटे ने नगर निगम की गाड़ी में लदी सभी भैंसों को जबरन उतार लिया। मारपीट होते देख कई कर्मचारी वहां से पैदल ही जान बचाकर भागे। कर्मचारियों ने इसकी सूचना पुलिस को दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने नगर निगम की गाड़ी छुड़वायी।

नगर निगम का कैटिल कैचिंग दस्ता बुधवार को काकोरी क्षेत्र के सीते बिहार,बेगरिया दुबग्गा क्षेत्र में अवैध डेरियां व भैंस के तबेले हटाने गया था। यहां नगर निगम ने कई तबेलों से भैंसे पकड़ ली और उन्हें गाड़ी में लाद लिया। दो गाड़ियां आगे निकल गयीं। तीसरी गाड़ी में नौ भैंस लदी थीं। इस बीच पार्षद रुकसाना के बेटे गाजी नवाब आ गये। उन्होंने नगर निगम की गाड़ी के आगे अपनी सफाई कार खड़ी कर दी। उनके साथ तमाम लोग और आ गए। इन लोगों ने नगर निगम कर्मचारियों की पिटाई शुरू कर दी। इससे कर्मचारी वहां से जान बचाकर भागे। एक कर्मचारी आमिर को पिटाई की वजह से काफी चोटें आयीं हैं। इन लोगों ने गाड़ी में लदी सभी नौ भैंसे छुड़वा लीं। कुछ कर्मचारियों ने फोन से इसकी सूचना नगर निगम के पशु चिकित्साधिकारी अरविन्द राव को दी। वह पुलिस लेकर मौके पर पहुंचे।

-----------------------------------

कन्हैया माधोपुर वार्ड की पार्षद रुकसाना के बेटे गाजी नवाब व उनके समर्थकों ने कर्मचारियों को पीटा। उन्होंने दोबारा जानवर पकड़ने आने पर जान से मारने की धमकी दी है। पार्षद के बेटे ने सभी जानवर छुड़वा लिए। उनके खिलाफ नगर आयुक्त से अनुमति लेकर एफआईआर दर्ज करायी जाएगी।

अरविन्द राव, संक्युक्त निदेशक, पशु कल्याण, नगर निगम

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:magar