class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सात शहरों में लो-फ्लोर मिनी बस सेवा शुरू होगी

सात शहरों में लो-फ्लोर मिनी बस सेवा शुरू होगी

- रातों में हर एक घंटे पर सीटी बसें मिलेंगी

प्रमुख संवाददाता- राज्य मुख्यालय

प्रदेश के सात शहरों लखनऊ, इलाहाबाद, मथुरा, आगरा, कानपुर, वाराणसी तथा मेरठ में पीपीपी माडल पर लो-फ्लोर मिनी बस सेवा अगले वित्तीय वर्ष से शुरू होगी। इसके साथ ही सिटी बसों में मुफ्त वाईफाई की सुविधा यात्रियों को दी जाएगी। रात में भी प्रत्येक एक घंटे पर लोगों की सुविधाओं के लिए सिटी बसें चलाई जाएंगी।

मुख्य सचिव राजीव कुमार ने गुरुवार को नगरीय परिवहन सेवा को लेकर अधिकारियों के साथ बैठक कर रहे थे। बस स्टापों पर डिजिटल डिस्प्ले, पैसेंजर क्यास्क, आटोमैटिक टिकटिंग मशीन, रूट डिस्प्ले, जीपीएस सिस्टम और इंटेलीजेण्ट ट्रैफिक सिस्टम सुविधा दी जाएगी। देर रात शहर में बस सुविधा उके लिए प्रातः 6 से रात 10 बजे तक तथा रात में एयरपोर्ट, बस स्टेशन व रेलवे स्टेशनों समेत मुख्य स्थानों पर रात्रि सेवा प्रत्येक एक घंटे के अन्तराल पर अनिवार्य रूप से उपलब्ध कराएं।

उन्होंने कहा कि रात्रिकालीन बस सेवा में नागरिकों की सुरक्षा के लिए आधुनिक तकनीकी का सहारा लिया जाए। सिटी बस सेवा में लाभ को महत्व न दे कर आम नागरिकों को बेहतर सुविधा का विशेष ध्यान रखा जाएगा। चल रही सिटी बसों में बेहतर सुविधा के लिए हर साल नई जरूरतों के अनुसार सुधार के काम जाए।

मुख्य सचिव ने कहा कि प्रदेश सरकार आम नागरिकों की सुविधा को ध्यान में रखते हुए रूटों का निर्धारण, उचित किराया, गुणवत्ता सेवा सहित आपरेशन का स्टैंडर्ड निर्धारित कर बसों का ग्रास कास्ट (जीसी) माडल पर संचालित कराया जाएगा। सिटी बस सेवा में ऐसी सुविधाएं विकसित की जाएं जिससे चार पहिया वाहन व दो पहिया वाहन में चलने वाले नागरिक भी नगरीय बस सेवा का उपयोग कर अपने गंतव्य स्थान तक समय से पहुंच सकें।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:low flore mini bus sewa
नैमिष तीर्थ के विकास के लिए केंद्र व राज्य सरकार से करूंगा बात: राज्यपालकम होगी एसी बसों की अनुबंध सीमा, बोर्ड में जाएगा प्रस्ताव