ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News उत्तर प्रदेश लखनऊलंबी दूरी की ट्रेनों में सर्वाधिक जलसंकट, खराब हो रहे एसी

लंबी दूरी की ट्रेनों में सर्वाधिक जलसंकट, खराब हो रहे एसी

लंबी दूरी की ट्रेनों में सफर करना आसान नहीं है। ज्यादातर ट्रेनों में पानी संकट यात्रियों के लिए मुसीबत बन रहा है। औसतन हर रोज 400 से ज्यादा यात्री...

लंबी दूरी की ट्रेनों में सर्वाधिक जलसंकट, खराब हो रहे एसी
हिन्दुस्तान टीम,लखनऊThu, 30 May 2024 06:40 PM
ऐप पर पढ़ें

लंबी दूरी की ट्रेनों में सफर करना आसान नहीं है। ज्यादातर ट्रेनों में पानी संकट यात्रियों के लिए मुसीबत बन रहा है। औसतन हर रोज 400 से ज्यादा यात्री रेलवे के माध्यमों पर शिकायत दर्ज कराते हैं। यह शिकायतें रेलवे के चार पोर्टल पर दर्ज होती हैं। इनमें रेलवे स्टेशन के प्लेटफार्म की दिक्कतों के साथ चलती ट्रेन में सफाई, पानी तथा एयरकंडीशनर न चलने की होती हैं। जहां बोगी में पानी की किल्लत से लेकर एसी कूलिंग कम होने और मेडिकल जरूरतों से जुड़ी सबसे ज्यादा शिकायतें आई है। सबसे ज्यादा लंबी दूरी की ट्रेनों में पानी संकट और एसी खराब होने की शिकायतें दर्ज हुई हैं।

यहां कर सकते हैं शिकायत, रेलवे 24 घंटे मुस्तैद

रेलवे अपने ग्राहकों के लिए चार प्रकार के शिकायत और सुझाव के लिए पोर्टल बनाया है। जहां यात्रियों को स्टेशन और ट्रेनों में असुविधा होने पर अपनी शिकायतें दर्ज करा सकते हैं। आपकी शिकायत और सुझाव सुनने के लिए रेलवे कर्मी 24 घंटे मुस्तैद हैं।

- हेल्पलाइन नंबर 139

- रेलवे के मदद ऐप

- मोबाइल एमएमएस

- वेब पोर्टल के जरिए

एक साल में डेढ़ लाख शिकायतें

बीते एक वर्ष यानी 365 दिनों में करीब डेढ़ लाख यात्रियों ने शिकायतें दर्ज करा रेलवे के सुझाव दिए। पूर्वोत्तर रेलवे प्रशासन ने वित्त वर्ष 2023-24 में 1,46,683 यात्रियों को विभिन्न पोर्टल के जरिए शिकायत पर मदद कर बेहतर यात्रा सुविधा उपलब्ध कराई। इनमें 6,109 मामलों में यात्रियों को ट्रेनों में शिकायतें दूर की और 225 मामलों में स्टेशनों पर चिकित्सा सुविधा उपलब्ध कराई गई।

स्टेशन पर नहीं मिला पानी, 352 मामले दर्ज

यात्रियों को रेलवे स्टेशनों पर पानी की व्यवस्था नहीं है। इसे लेकर यात्रियों ने 352 मामले दर्ज कराएं। जबकि महिला सुविधा के मद्देनजर ट्रेनों में 242 और स्टेशनों पर 49 मामलों में महिलाओं की शिकातयें दूर की गई। इसके अलावा स्टेशनों पर यात्री सुविधा के 1,625 और लगेज से संबंधित 5,112 मामलों को भी निस्तारण किया गया।

रेलवे यात्रियों की समस्याएं शत-प्रतिशत दूर करने का लगातार प्रयास है। यात्रियों की शिकायतें तत्काल संज्ञान में लेकर दूर कराई जा रही हैं। रेलवे से जुड़ी शिकायतें का निस्तारण कर यात्रियों की मदद की जाती है।

- पंकज सिंह, सीपीआरओ, पूर्वोत्तर रेलवे

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।