DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

Lok Sabha Elections 2019 : यूपी में हार्दिक के सहारे पिछड़े वोटबैंक को जोड़ेगी कांग्रेस

कांग्रेस ने गुजरात के प्रमुख पाटीदार नेता हार्दिक पटेल के सहारे उत्तर प्रदेश में भी पिछड़ा वोटबैंक को गोलबंद करने की रणनीति तैयार कर रही है। लोकसभा चुनाव में हार्दिक पटेल को पार्टी अपना स्टार प्रचारक बना कर प्रदेश की करीब एक दर्जन से अधिक उन लोकसभा सीटों पर प्रचार के मैदान में उतार सकती है जहां पटेल (कुर्मी) वोट निर्णायक है। 

अलबत्ता मंगलवार को पार्टी की केंद्रीय कार्यसमिति की अहमदाबाद में हुई बैठक के बाद हार्दिक पटेल के कांग्रेस में शामिल होते ही उन्हें प्रदेश की मिर्जापुर या अन्य किसी लोकसभा सीट से चुनाव लड़ाने की मांग जोर पकड़ रही है। उत्तर प्रदेश के पिछड़ा वोटबैंक में कुर्मी बिरादरी की खासी अहमियत है। पूरब से बुन्देलखण्ड और पश्चिम तक की तमाम सीटों पर इसका असर है। अपेक्षाकृत ज्यादा शिक्षित, संगठित, आर्थिक रूप से सम्पन्न और जागरूक होने के कारण एकजुटता भी कई अन्य बिरादरियों की तुलना में अधिक है। 

गुजरात में पाटीदार आन्दोलन के बाद हार्दिक पटेल एक बड़ा चेहरा बन चुके हैं। बीते करीब दो साल से हार्दिक यूपी में भी सक्रिय रहे हैं। सीतापुर, प्रतापगढ़, कुशीनगर, रायबरेली, वाराणसी, लखीमपुर खीरी से लेकर बुन्देलखंड तक दौरे कर चुके हैं। कुछ दिन पहले हार्दिक लखनऊ भी आये थे। 

पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता डा. अनूप पटेल कहते हैं -हार्दिक का पार्टी को गुजरात और यूपी के अलावा राष्ट्रीय स्तर व दूसरे राज्यों में भी लाभ मिलेगा। पाटीदार आन्दोलन के अलावा किसान क्रान्ति सेना भी उन्होंने बनायी है और यूपी में किसानों की 40-45 छोटी-बड़ी रैली कर चुके हैं। युवा उनसे खासे प्रभावित हैं। सूत्रों के अनुसार पार्टी हार्दिक को स्टार प्रचारक बना कर यूपी में प्रचार करने की रणनीति पर काम कर रही है। पाटीदार आन्दोलन के समय से जुड़े संजय पटेल कहते हैं - यह कांग्रेस के ऊपर है कि वह हार्दिक को कहां और क्या जिम्मेदारी देती है। लेकिन यह तय है कि हार्दिक को शामिल कराने का कांग्रेस को काफी लाभ मिलेगा। बिरादरी के अलावा भी किसानों, गरीबों में हार्दिक पटेल का असर है। यूपी में भी वह भाजपा के खिलाफ तमाम जिलों में कार्यक्रम कर चुके हैं। 

भूपेश बघेल भी यूपी के कई दौरे कर चुके हैं
छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश  बघेल भी प्रदेश के कई दौरे कर चुके हैं। बाराबंकी में उनके कार्यक्रम हो चुके हैं।

इन सीटों पर पटेल हैं निर्णायक
मिर्जापुर, अंबेडकरनगर, गोण्डा, बस्ती, सिद्धार्थनगर, धौरहरा, बरेली,अकबरपुर, फतेहपुर, सीतापुर, फतेहपुर, बांदा, महराजगंज, लखीमपुर   

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Lok Sabha Elections 2019: Congress will add backward voting support to hearty support in UP