lko - चंद्रग्रहण : 15 से 30 दिनों में सभी राशियों पर डालेगा असर DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

चंद्रग्रहण : 15 से 30 दिनों में सभी राशियों पर डालेगा असर

दो घंटे 59 मिनट तक रहेगा खग्रास चन्द्रग्रहण

-16 की मध्यरात्रि से 17 जुलाई की भोर तक रहेगा चंद्रग्रहण, सम्पूर्ण भारत में दृश्य होगा

आषाढ़ शुक्ल पक्ष पूर्णिमा अर्थात गुरुपूर्णिमा 16 जुलाई को है और इसी दिन की रात में खण्डग्रास चंद्रग्रहण भी लगने जा रहा है। ज्योतिषाचार्य बताते हैं कि 16 जुलाई की मध्यरात्रि से 17 जुलाई की भोर में खग्रास चंद्रग्रहण भी लगने जा रहा है जो सम्पूर्ण भारत में दृश्य होगा। 15 से 30 दिनों में यह सभी राशियों पर अपना असर भी डालेगा।

भारतीय समय के अनुसार यह इसका स्पर्श रात में 1: 31 मिनट पर, ग्रहण का मध्य भर में 3:01 बजे और चन्द्र ग्रहण का मोक्ष 4: 30 बजे होगा। ग्रहण की कुल अवधि दो घंटे 59 मिनट तक रहेगी। ग्रहण का स्पर्श उत्तराषाढ़ा नक्षत्र के प्रथम चरण धनु राशि मे होगा और मोक्ष उत्तराषाढ़ा नक्षत्र के द्वितीय चरण मकर राशि में होगा। अतः इस नक्षत्र राशि मे जन्म लेने वालों को सावधानी रखनी चाहिए। रात में 1:31 बजे से मोक्ष काल 04:30 बजे तक लगने वाले चन्द्र ग्रहण का धार्मिक के साथ साथ ग्रहीय दृष्टि से भी अत्यंत महत्त्व रहेगा।

------------------------------------

चंद्रग्रहण जब धनु में होगा तो कर्क, तुला, कुंभ और मीन राशि के लिए लाभकारी होगा और जब मकर में आएगा तो मेष, सिंह, वृश्चिक और मीन के लिए लाभकारी होगी। वृष, मिथुन, कन्या, धनु और मकर के लिए मध्यम लाभ देने वाला है।

ज्योतिषाचार्य पं. दिवाकर त्रिपाठी पूर्वांचली

--------------------------

मान्यता है कि चंद्रग्रहण के बाद स्नान और दान करना भी बहुत अच्छा रहता है। इसलिए गेहूं, धान, चना, मसूर, दाल, गुड़, चावल, काला कम्बल, सफेद-गुलाबी वस्त्र, चूड़ा, चीनी, चांदी-स्टील की कटोरी में खीर दान से खास लाभ मिलेगा।

ज्योतिषाचार्य एसएस नागपाल

------------------------------

16-17 जुलाई की रात के मध्य चंद्रग्रहण लगने जा रहा है। खास बात यह है कि यह चंद्रग्रहण भारत में दिखाई देगा। ग्रहण खग्रास चंद्र ग्रहण होगा। इस चंद्रग्रहण की अवधि 2 घंटे 59 मिनट रहेगी।

ज्योतिषाचार्य अरविंद त्रिपाठी

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:lko