DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

21 अप्रैल से संयुक्त परिषद का जन जागरण अभियान

-कहा शासन के अधिकारी कर्मचारियों की मांगों के प्रति संवेदनशील नहीं

राज्य कर्मचारी संयुक्त परिषद के वरिष्ठ पदाधिकारियों की महत्वपूर्ण बैठक बुधवार को लखनऊ में हुई। अध्यक्षता करते हुए परिषद के अध्यक्ष जेएन तिवारी ने की। उन्होंने बताया कि विभागों के अपर मुख्य सचिव, प्रमुख सचिव और विभागाध्यक्ष कर्मचारियों की मांगों के प्रति संवेदनशील नहीं हैं।

उन्होंने बताया कि कर्मचारियों में जन जागरण पैदा करने के लिए प्रदेश का गहन भ्रमण कार्यक्रम बनाया गया है। 21 अप्रैल को इलाहाबाद, 22 को मिर्जापुर, 23 को बनारस, 24 को जौनपुर और 25 अप्रैल को सुल्तानपुर में कर्मचारियों को संबोधित करेंगे और प्रेस वार्ता करेंगे। उन्होंने कहा कि मुख्य सचिव स्तर से राज्य कर्मचारी संयुक्त परिषद के प्रतिनिधियों की कई बैठकों में कर्मचारियों की मांगों पर सकारात्मक निर्णय लिए गए। समस्याओं के निस्तारण के निर्देश भी दिए। परंतु विभागीय स्तर पर कर्मचारी संगठनों की बैठकें नहीं हो रही हैं जिसके कारण कर्मचारियों की मांगे लंबित पड़ी हैं। जेएन तिवारी ने बताया कि प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और मुख्य सचिव डॉ.अनूप चंद पांडे कर्मचारियों की समस्याओं के प्रति संवेदनशील है। विभागीय अधिकारी उच्च आदेशों की अनदेखी कर रहे हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:lko