DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

काकोरी के दुबग्गा तुलसी अस्पताल के मालिक ने फांसी लगाकर खुदकुशी की

- सुसाइड नोट में खुद को ठहराया मौत का जिम्मेदार - परिवारीजनों ने युवती के खिलाफ दी तहरीर काकोरी। हिन्दुस्तान संवाददुबग्गा स्थित सम्राट सिटी कॉलोनी में रविवार को अस्पताल संचालक आशीष यादव (25) ने फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली। जान देने से पहले उसने अपनी प्रेमिका को मैसेज किया और एक पन्ने का सुसाइड नोट भी लिखा। जिसमें उसने खुद को मौत का जिम्मेदार ठहराया। फिलहाल, पुलिस मामले की पड़ताल कर रही है। माल के सिंहपुर गांव निवासी जितेंद्र यादव का बेटा आशीष यादव हरदोई रोड स्थित दुबग्गा में एक अस्पताल चलाता था। उसने सम्राट सिटी कालोनी में एक मकान किराए पर ले रखा था। पिता जितेंद्र के मुताबिक, शुक्रवार रात उसके मोबाइल पर किसी युवती का फोन आया था। इसके बाद आशीष अस्पताल जाने की बात कहकर निकल गया। पिता ने आशीष को फोन करके घर आने की बात कही। इस पर उसने बताया कि वह सम्राट सिटी में ठहरा हुआ है। उसका माल के गोड़वा बरौकी स्थित एक अस्पताल संचालिका से प्रेम प्रसंग चल रहा है। शव देखकर पिता गश खाकर गिरेबताया जा रहा है कि आशीष और युवती के रिश्ते को लेकर दोनों के परिवारीजन खिलाफ थे। करीब एक सप्ताह पहले युवती के परिवारीजनों ने माल थाने में तहरीर दी थी। इस पर पुलिस ने उसे कई बार थाने बुलाया था। इस बात को लेकर वह काफी तनाव में था। पिता नेबताया कि वह बेटे से मिलने के लिए सम्राट कालोनी पहुंचे तो दरवाजा भीतर से बंद था। काफी देर तक दस्तक देने के बावजूद दरवाजा नहीं खुला। उन्होंने खिड़की की झिरी से देखा तो आशीष का शव गमछे से छत के पंखे में लटक रहा था। यह देखकर वह गश खाकर गिर पड़े। किराएदारों ने उन्हें संभालते हुए पुलिस को जानकारी दी। जिसे प्यार किया, उसने धोखा दियापुलिस ने दरवाजा तोड़कर फंदे से लटक रहे शव को नीचे उतारा। उसके पास से एक सुसाइड नोट मिला। जिसमें लिखा था कि पिता जी, माता जी मुझे माफ करना। मैं अपनी मौत का खुद जिम्मेदार हूं। मेरे न रहने पर छोटे भाई हिमांशु व बहन पूनम का ध्यान रखना। पिता जी, मैंने जिसे प्यार किया। उसने ही मुझे धोखा दिया। उसने मेरे ऊपर माल थाने में मुकदमा दर्ज कराने के लिए तहरीर दी है। पुलिस लगातार बुला रही है। जिसके कारण मैं परेशान हूं। युवती और उसके परिवारीजनों के खिलाफ दी तहरीरशुक्रवार शाम को आशीष ने युवती से मिलने के लिए फोन किया था। लेकिन युवती ने मिलने से इनकार कर दिया। उसके बाद उसने युवती को एक मैसेज किया। फिर उसने फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली। पुलिस का कहना है कि पड़ताल की जा रही है। आशीष के घरवालों ने युवती और उसके परिवारीजनों के खिलाफ माल थाने में मुकदमा दर्ज कराने की तहरीर दी है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:lko