DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

इप्सेफ तीन दिसम्बर को संसद मार्ग पर निकालेगा राष्ट्रीय रैली

-15 सूत्रीय मांगों के पूरा नहीं होने पर आंदोलन का लिया गया निर्णय

-प्रधानमंत्री, गृहमंत्री, कैबिनेट सचिव को आन्दोलन की नोटिस सौंपी

लखनऊ। वरिष्ठ संवाददाता

विभिन्न मांगों को लेकर इंडियन पब्लिक सर्विस इम्पलाइज फेडरेशन (इप्सेफ) की ओर से नई दिल्ली में वीपी मिश्र की अध्यक्षता में सेमीनार आयोजित किया गया। 17 राज्यों और 22 राष्ट्रीय कर्मचारी संगठनों के पदाधिकारियों ने इस बैठक में भाग लिया। महामंत्री प्रेम चन्द्र ने बताया कि बैठक में उपस्थित सभी नेताओं ने एक स्वर से प्रधानमंत्री से मांग की कि इप्सेफ की 15 सूत्री मांगो पर बैठक कर तत्काल निर्णय करें नहीं तो देश भर के पांच करोड़ कर्मचारी तीन दिसम्बर को संसद मार्ग पर रैली करेंगे।

-मांगों के न माने जाने पर 31 दिसम्बर को हो सकती हड़ताल की घोषणा

साथ ही कर्मचारी नेताओं ने चेतावनी दी कि अगर मांगे न मानी गयी तो 31 दिसम्बर को हड़ताल की घोषणा भी कर दी जाएगी। बैठक में यह भी निर्णय लिया गया कि सभी राजनैतिक दल वादा करें कि उनकी सरकार बनने पर देश भर के कर्मचारियों की मांगो पर उनके पक्ष में निर्णय करेंगे। जो दल अपने घोषणा पत्र में वादा नही करेगा देश भर के कर्मचारी व परिवार उस दल को वोट नही करेंगे। बैठक में नाराजगी जताई गई कि कई राज्यों में सातवां वेतन आयोग लागू नही किया गया है जिससे वहां के कर्मचारियों द्वारा आन्दोलन किया जा रहा है। इप्सेफ ने गुजरात, मध्यप्रदेश, राजस्थान, छत्तीसगढ़ आदि राज्यों में चल रहे आन्दोलन को समर्थन दिया है। राष्ट्रीय सचिव अतुल मिश्र ने बताया कि इस सम्बन्ध मे मुख्यमंत्री जी को पत्र भी भेजा जायेगा। इप्सेफ की ओर से प्रधानमंत्री, गृहमंत्री और कैबिनेट सचिव को आन्दोलन की नोटिस सौंपी गयी।

प्रमुख मांगे

1. एनपीएस को समाप्त कर पुरानी पेंशन योजना लागू की जाय

2. शेष बचे राज्यों मे भी सातवां वेतन आयोग लागू किया जाय

3. राज्यों के कर्मचारियों को केन्द्र की भांति भत्ते दिये जाय

4. रिक्त पदों पर ठेका प्रथा आउटसोर्सिंग बन्द की जाय

5. ठेका/कर्मचारियों के लिए स्थाई नीति बनाई जाय तथा उनको न्यूनतम वेतन दिया जाय

6. आयकर सीमा सात लाख की जाय

7. राष्ट्रीय वेतन आयोग गठित किया जाय

8. सेवा निवृत्ति आयु 62 वर्ष की जाय

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:lko