DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

माफी के मायनों से ओपेन माइक ने कराया रू-ब-रू

टीम हवाबाजी की ओर से युवाओं की टोली ने ओपेन माइक के रूप में अपनी बात समाज के सामने रखी। ओपेन माइक की थीम सभी को माफ कर आगे बढ़ना रखा गया था। इसी कड़ी मे लोगों ने अपने मन की बात किस्से, कहानियों और कविताओं के माध्यम से कह डाली। चलो आज माफ करते हैं बीते हुए कल को तो बदल नहीं सकते । चलो आने वाले कल को ही बदलते हैं, चलो आज माफ करते हैं, कुछ इस अंदाज़ मे करी थी पूनम ने शाम की शुरुआत की । अक्षिता ने पढ़े इश्क पर अपनी बात रखी। स्वाति ने कुछ तू माफ कर दे कुछ मैं माफ कर दूं कविता पढ़ कर लोगों को माफी शब्द के असल मायनों से रू-ब-रू कराया। सूर्यांश ने स्टैंड अप कॉमेडी करके माहौल को खुशनुमा बनाया ।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:lko