DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

हमारे यहां नासा नहीं पंडित जी करते हैं चंद्र व सूर्य ग्रहण का आकलन

-गृहमंत्री ने कहा कि अखिल भारतीय ब्रह्म समाज के कार्यक्रम में लिया भागलखनऊ। वरिष्ठ संवाददाताविदेशों में चंद्र ग्रहण और सूर्य ग्रहण का समय नासा द्वारा बताया जाता है। परंतु अगर आप हमारे यहां किसी पंडित जी से पूछेंगे तो वह हमारे ज्ञानी ऋषि-मुनियों द्वारा रचित पत्रांक को पढ़कर 400 साल पुराने हुए चंद्र ग्रहण और सूर्य ग्रहण का भी सही आकलन कर समय बता देते हैं। यही भारत की महानता है। यह बात गृहमंत्री और लखनऊ के सांसद राजनाथ सिंह ने रविवार को राजधानी में कही। वे अखिल भारतीय ब्रह्म समाज की ओर से समाज के मेधावी छात्र-छात्राओं के सम्मान और पुस्तक वितरण समारोह में पहुंचे थे।चारबाग स्थित रवींद्रालय में आयोजित कार्यक्रम में गृहमंत्री ने ब्रह्म समाज के मेधावी छात्र- छात्राओं को प्रशस्ति पत्र, ट्रॉफी एवं ब्रम्ह चेतना पुस्तक देकर सम्मानित किया। इस अवसर पर महापौर श्रीमती संयुक्ता भाटिया, कैबिनेट मंत्री ब्रजेश पाठक, मंत्री रीता बहुगुणा जोशी, स्वाति सिंह, डॉ. महेंद्र सिंह, सांसद अशोक बाजपेई, भारतीय जनता पार्टी के क्षेत्रीय अध्यक्ष सुरेश तिवारी, महानगर अध्यक्ष मुकेश शर्मा पर मौजूद रहे। कार्यक्रम में अखिल भारतीय ब्रह्म समाज के अध्यक्ष सीपी अवस्थी, महामंत्री देवेंद्र शुक्ला, कोषाध्यक्ष प्रेम कुमार मिश्रा, विजय त्रिपाठी, बलराम त्रिपाठी समेतअन्य पदाधिकारी एवं कार्यकता उपस्थित थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:lko