अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सरोजनीनगर क्राइम

सरोजनीनगर। हिन्दुस्तान संवादबंथरा में बुधवार रात हाईवोल्टेज आ गया। इससे करीब एक दर्जन घरों में बिजली के उपकरण फुंक गये। ग्रामीणों ने गहरु उपकेंद्र पर सम्पर्क किया लेकिन कर्मचारियों ने फोन नहीं उठाया। इससे ग्रामीणों का गुस्सा भड़क गया और उपकेंद्र पहुंचकर हंगामा करने लगे। जिसके बाद कर्मचारियों ने बिजली सप्लाई ठप कराई। गहरु उपकेंद्र के अंतर्गत बंथरा गांव में विद्युत सप्लाई होती है। बुधवार रात हाईवोल्टेज आ गया। इससे सनेश यादव, राम प्रताप सिंह, मनोज सिंह, शंकर चौरसिया, पिंटू, दीनू, पप्पू व चुन्नू सहित करीब दर्जन भर लोगों के घरों में लगे पंखे, बल्ब, कूलर व समर्सिबल पम्प फुंक गए। इससे गांव में हड़कंप मच गया, लोग घरों से बाहर निकल आये। ग्रामीणों ने बिजली सप्लाई बंद कराने के लिए उपकेंद्र पर फोन किया लेकिन कर्मचारियों ने रिसीव नहीं किया। इससे लोगों का गुस्सा भड़क गया। आधी रात को ही लोगों ने उपकेंद्र पर धावा बोल दिया। उग्र भीड़ की कर्मचारियों से तीखी झड़प हो गई। इसके बाद कर्मचारियों ने बिजली सप्लाई बंद की। स्थानीय लोगों के मुताबिक क्षेत्र में जर्जर तारों का मकड़जाल है। इससे कई बार हाईवोल्टेज की घटनाएं हो चुकी है। बिजली तारों को बदलने के लिए जूनियर इंजीनियर व एसडीओ से निवेदन किया गया। इसके बावजूद कोई सुनवाई नहीं हुई। अधीक्षण अभियंता रवि श्रीवास्तव ने बताया कि गांव में रखे विद्युत ट्रांसफार्मर से 440 वोल्टेज लाइन को जोड़ने वाले केबिल में शार्ट सर्किट होने से तार आपस में चिपक गए। इससे तारों में हाईवोल्टेज आ गया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:lko