अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

राष्ट्र के विकास के लिए संस्कृत व हिन्दी में कार्य करना महत्वपूर्ण : डॉ विजय कर्ण

-राष्ट्रीय प्रतिदर्श सर्वेक्षण कार्यालय के प्रशिक्षण शिविर का समापन

राष्ट्रीय प्रतिदर्श सर्वेक्षण कार्यालय के क्षेत्रीय प्रशिक्षण शिविर के अंतिम दिन गुरुवार को

लखनऊ, कानपुर, फतेहपुर, झाँसी व गोण्डा से आये हुए अधिकारियों ने हिस्सा लिया। विकास नगर स्थित एक होटल में आयोजित शिविर के पहले सत्र में प्रशासनिक बैठक का आयोजन किया गया। जिसमें उपमहानिदेशक मध्यांचल एके मिश्र, निदेशक डॉ प्रवीण शुक्ल तथा कार्यालयाध्यक्षा शिवानी सक्सेना ने कार्यालय संचालन में आने वाली समस्याओं का समाधान किया तथा कार्यालय के सुगम संचालन के लिए आवश्यक दिशा निर्देश प्रशिक्षार्थियों को दिए।दूसरे सत्र में हिन्दी कार्यशाला का आयोजन किया गया। जिसे विद्यान्त हिन्दू स्नातकोत्तर महाविद्यालय के संस्कृत विभाग के विभागाध्यक्ष एवं भाषाविद डॉ विजय कर्ण ने संबोधित किया। डॉ विजय कर्ण ने राष्ट्र के विकास के लिए संस्कृत व हिन्दी में कार्य करने के महत्व के बारे में जानकारी दी। मीडिया प्रभारी अनिल कुमार अम्बष्ट व एके अस्थाना ने बताया कि समापन भाषण में उपमहानिदेशक एके मिश्र ने सर्वेक्षण के महत्व एवं क्षेत्र कार्य में बरती जाने वाली सावधानियों के विषय में प्रशिक्षाथिर्यों को अवगत कराया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:lko