अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

रतियामऊ में पशुचर की जमीन से हटाये तहसील प्रशासन ने अवैध कब्जे-----------

सात करोड़ मूल्य की आठ बीघा सरकारी जमीन खाली कराईनिगोहा। हिंदुस्तान संवादग्राम प्रधान ने ही सरकारी जमीन पर कब्जा जमा लिया था। जांच में खुलासा होने के बाद एसडीएम ने एक कंपनी पीएसी और पुलिस बल साथ लेकर आठ बीघा सरकारी जमीन खाली कराई। यह जमीन अभिलेखों में पशुचर के नाम से दर्ज है। इसका बाजार भाव सात करोड़ रुपए के लगभग है।एसडीएम मोहनलालगंज संतोष सिंह ने बताया कि तहसीलदार शम्भूशरण के नेतृत्व में राजस्व टीम ने प्रधान सहित दर्जन भर अन्य बाहरी लोगों के कच्चे और पक्के निर्माण हटाए। इस दौरान पक्का निर्माण करने वाले कुछ लोगों ने प्रशासन की टीम से आग्रह किया कि उनके घरों में सामान रखा है। वह हटाने के बाद खुद अवैध निर्माण ढहा देंगे। उनकी बात मानते हुए प्रशासन की टीम ने तीन दिन में खुद अवैध निर्माण हटाने का निर्देश दिया है।तालाब में खोद दी पीएम आवास की नींवमलिहाबाद में नगर पंचायत ने तालाब पर कब्जा ही प्रधानमंत्री आवास का निर्माण करना शुरू कर दिया। इसकी जानकारी मिलने पर एसडीएम जय प्रकाश अग्निहोत्री ने नायब तहसीलदार को मौके पर भेज कर जमीन की पड़ताल करवाई। इसके बाद तहसीलदार ने समादा तालाब से कब्जा खाली करा ली। इस सम्बंध में एसडीएम ने नगर पंचायत मलिहाबाद की अधिशासी अधिकारी को चिट्ठी भेज कर इस पूरे मामले की जांच करने का निर्देश दिया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:lko