class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

देवताओं के आवाहन से शुरू हुआ 51 कुण्डीय महायज्ञ

-भक्ति के माहौल में गायत्री परिवार के सदस्यों ने डाली आहूतियां

गायत्री तीर्थ शांतिकुंज हरिद्वार की ओर से आशियाना कथा पार्क सेक्टर-जे में 51 कुण्डीय यज्ञशाला देव आह्वान और पूजन के साथ गुरुवार से यज्ञ शुरू हो गया। यज्ञ का संचालन शांतिकुंज हरिद्वार की पांच सदस्यीय टोली के टोली नायक पंडित श्याम बिहारी दुबे ने किया।

यज्ञ संचालन करते हुए श्री दुबे ने कहा कि यज्ञ त्याग परमार्थ का देवता है। यज्ञ संचय करके अपने लिये नहीं रखता वह लोक कल्याण के लिए अर्पित कर देता है। हमें इस यज्ञ से प्रेरणा लेकर त्याग, परमार्थमय जीवन जीना चाहिये क्योंकि हमारे पूर्वजों का जीवन त्याग, परमार्थमय था। मुख्य मीडिया प्रभारी उमानंद शर्मा ने बताया कि शाम के सत्र में संगीत और शांतिकुंज के प्रतिनिधि का उद्बबोधन हुआ। शुक्रवार सुबह यज्ञ और दूसरे सत्र में विशाल युवा सम्मेलन होगा। जिसमें डॉ चिन्मय पण्ड्या श्रद्धालुओं और युवाओं का मार्गदर्शन करेंगे। विधानसभा अध्यक्ष हृदय नारायण दीक्षित इस सत्र के मुख्य अतिथि होंगे। श्री शर्मा ने बताया कि गायत्री परिवार के सम्पूर्ण साहित्य का विशाल पुस्तक मेला भी यज्ञ प्रांगण में चल रहा है जो नौ दिसम्बर तक चलेगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:lko
नवयुग में नारी सुरक्षा के प्रति छात्राओं को किया गया जागरूकयूपी और केंद्र में जीएसटी पर व्यापारियों का बंटवारा