ट्रेंडिंग न्यूज़

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ उत्तर प्रदेश लखनऊलाइव--लीड--यूपीटीईटी: केन्द्रों के बाहर हंगामा, अन्दर जारी रही परीक्षा

लाइव--लीड--यूपीटीईटी: केन्द्रों के बाहर हंगामा, अन्दर जारी रही परीक्षा

-13425 अभ्यर्थियों ने छोड़ी यूपीटीई की परीक्षा -देर से पंहुचने वाले दर्जन भर अभ्यर्थी...

लाइव--लीड--यूपीटीईटी: केन्द्रों के बाहर हंगामा, अन्दर जारी रही परीक्षा
Newswrapहिन्दुस्तान टीम,लखनऊSun, 23 Jan 2022 09:20 PM

-13425 अभ्यर्थियों ने छोड़ी यूपीटीई की परीक्षा

-देर से पंहुचने वाले दर्जन भर अभ्यर्थी नहीं दे पाए परीक्षा

लखनऊ। कार्यालय संवाददाता

उत्तर प्रदेश शिक्षक पात्रता परीक्षा (यूपीटीईटी) कई केन्द्रों के पर हुए हंगामे के बीच रविवार को सम्पन्न हुई। दो पालियों में हुई परीक्षा में पहली पाली में ही हंगामा हुआ। गोमती नगर स्थित टीडी गर्ल्स कॉलेज, ठाकुरगंज स्थित ब्राइट इंटर कॉलेज के साथ ही कई अन्य परीक्षा केन्द्रों पर गेट के बाहर खड़े अभ्यर्थियों न प्रशासन पर परीक्षा से वंचित करने का आरोप लगाया। दो दर्जन से अधिक अभ्यर्थी ऐसे थे जो परीक्षा केन्द्र पर देर से पंहुचने के कारण पहली पाली की परीक्षा नहीं दे पाए। हालांकि, दूसरी पाली में शामिल हुए। यूपीटीईटी परीक्षा लखनऊ के 99 परीक्षा केन्द्रों पर हुई। जिसमें सबसे बड़ी चुनौति कोरोना गाइडलाइन का पालन करना था। इसके लिए पुलिस कर्मी सभी केन्द्र पर मुस्तैद रहे। दोनों पालियों में कुल 80,604 अभ्यर्थी पंजीकृत थे, जिसमें 13425 अभ्यर्थी अनुपस्थित रहे। पहली पाली सुबह 10 से 12.30 बजे तक थी। जिसके लिए परीक्षा केन्द्रों पर सुबह आठ बजे से ही लाइन लगवाना शुरू कर दिया था। इसके बाद अभ्यर्थियों की थर्मल स्कैनिंग की गई। इसके बाद परीक्षा कक्ष की ओर जाने दिया गया। यही प्रक्रिया दूसरी पाली दोपहर 2.30 से पांच बजे में की गई। दोपहर डेढ़ से बजे से प्रवेश देना शुरू कर दिया गया। वहीं परीक्षा खत्म होने के बाद पहली पाली में पंजीकृत 47349 अभ्यर्थियों से 7766 अभ्यर्थी अनुपस्थित रहे वहीं दूसरी पाली में पंजीकृत 33255 अभ्यर्थियों में से 5659 अभ्यर्थियों ने परीक्षा छोड़ दी। इस बीच, डीएम अभिषेक प्रकाश ने भी कई केंद्रों पर जाकर निरीक्षण किया।

-अभ्यर्थियों को गणित ने सताया

यूपीटीईटी के दोनों पालियों में प्रश्न पत्र सामान्य रहे। सिर्फ गणित विषय ने अभ्यर्थियों को परेशान किया। पहली पाली में कक्षा एक से पांच तक के लिए अभ्यर्थियों ने परीक्षा दी। जिसमें हिन्दी, अंग्रेजी, बाल विकास, गणित के प्रश्न थे। परीक्षा देकर बाहर निकले अभ्यर्थियों ने कहा कि पूर्व में 28 नवम्बर को निरस्त हुई परीक्षा की पहली पाली में आधे से ज्यादा प्रश्न पत्र हल कर लिया था। निरस्त हुई परीक्षा के प्रश्न पत्र की तुलना में रविवार को हुई प्रश्न पत्र में सिर्फ गणित के सवाल के मुश्किल थे। वहीं दूसरी पाली में सामान्य विषय के प्रश्न औसत थे और चयनित विषयों में स्तरीय सवाल पूछे गए थे। दोनो ही पालियों में 150-150 अंक के लिए अभ्यर्थियों ने परीक्षा दी। प्रत्येक प्रश्न के लिए एक अंक था।

-डिजी लॉकर की साफ्ट कॉपी अमान्य

यूपीटीईटी को परीक्षा में किसी प्रकार विवाद न हो इसके लिए शासन स्तर से सख्त निर्देश दिए गए थे। अभ्यर्थियों को अपने मूल प्रमाण पत्र या सत्यापित प्रमाण लाने के निर्देश दिए गए थे। टीडी गर्ल्स इंटर कॉलेज में कई अभ्यर्थी बिना प्रमाण पत्र के पहुंचे और प्रमाण पत्र दिखाने की मांग करने पर अधिकारियों को अभ्यर्थियों ने डीजी लॉकर की साफ्ट कॉपी दिखायी। जिसे अधिकारियों ने नहीं माना और परीक्षा कक्ष में प्रवेश नहीं दिया। अभ्यर्थी शशांक ने कहा कि डीजी लॉकर को सरकार ने मान्य किया। इसके बावजूद भी परीक्ष नहीं देने दी। शशांक ने कहा कि मूल प्रमाण साथ लाए और खो जाएं तो इसकी जिम्मेदारी किसकी को होगी।

बंद करायी गई फोटा स्टेट की शॉप

यूपी टीईटी परीक्षा शुरू होने से पूर्व परीक्षा केन्द्रों के आसपास स्थित फोटोस्टेट दुकानों का निरीक्षण किया गया। पुलिस अधिकारियों ने कई क्षेत्रों में निरीक्षण के दौरान फोटो स्टेट कॉपियों की दुकानों केा बंद कराया।

epaper