DA Image
22 सितम्बर, 2020|10:50|IST

अगली स्टोरी

8 घंटे के रेस्क्यू आपरेशन में पिंजरे में कैद हुआ तेंदुआ, लाया गया लखनऊ जू 

राजधानी लखनऊ में 10 दिनों से अनौरा गांव के जंगल में चहलकदमी कर रहा तेंदुआ शुक्रवार तड़के पकड़ लिया गया। वन विभाग की ओर से रात भर चलाए गए सर्च अभियान के दौरान सुबह चार बजे तेंदुआ पिंजरे में कैद हो गया। अब इस तेंदुए को वन विभाग जू में रखेगा। 

बीती रात किसान पथ के नूरपुर गांव के नजदीक सीमेंट सीवर पाइप में बैठा देखा गया था। सूचना पर वन विभाग की तीन टीमें कांबिंग के लिए लगाईं गई थी। आठ घंटे की मशक्कत के बाद वन विभाग के बड़े पिंजड़े में तेंदुआ ट्रैप हुआ। डीएफओ डाॅ रवि बताते हैं कि तड़के सुबह वन विभाग की रेस्क्यू टीम ने तेंदुए को रेस्क्यू कर ऑपेरशन पूरा किया। तेंदुआ को अब लखनऊ के जू में रखा जाएगा। पुलिस अधिकारियों के साथ रात भर इलाके में डीएफओ समेत जू की टीम लगी रही।

तेंदुआ को खाने में मीट और पानी दिया गया

नूरपुर बेहटा गांव से पकड़े गये तेंदुए को लखनऊ चिड़ियाघर लाया गया। तेंदुए ने किसी पर हिंसक प्रहार नहीं किया है। जिसे देखते हुये उसे सुरक्षित वन क्षेत्र में छोड़े जाने पर विचार चल रहा है। नरही इलाके में स्थित चिड़ियाघर में पहुंचे तेंदुए को फिलहाल पशु चिकित्सालय में रखा गया है। सेल में कैद होने से तेंदुआ घबराया हुआ है। उसे खाने में मीट और पानी दिया गया है। चिड़ियाघर के निदेशक आरके सिंह बताते हैं कि तेंदुआ चिड़ियाघर में रहेगा। उसे शिफ्ट करने तक तेंदुए की हर गतिविधि पर पशु चिकित्सक नजर रखे हुए हैं।
 

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Leopard caught in cage in 8-hour rescue operation brought to Lucknow zoo