DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

प्रधानमंत्री के बयान से लेखपालों में जगी उम्मीद

प्रधानमंत्री ने कहा- देश को या तो प्रधानमंत्री चलाता या पटवारी लखनऊ। निज संवाददाताप्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के .... देश को या तो प्रधानमंत्री चलाता या पटवारी... वाले बयान से लेखपाल गदगद हैं। ग्राउंड ब्रेकिंग सेरेमनी में रविवार को प्रधानमंत्री ने प्रदेश में हुए रिकार्ड निवेश में लेखपालों के महत्व को बताए जाने ने लेखपालों में नई ऊर्जा भरने के साथ ही नई उम्मीद भी जगा दी है। मुख्यमंत्री के सामने दिए गए इस बयान के बाद लेखपाल मान रहे हैं कि उनकी सभी जायज मांगे अब जरूर पूरी होंगी। लेखपाल बीते कई वर्षों से लैपटॉप, मोबाइल समेत वेतन, भत्तों, पात्रता और सुविधाओं की मांग कर रहे हैं। पिछली सरकार ने उन्हें आश्वासन देकर टाल दिया। इधर नई सरकार के एक वर्ष पूरा होने के बाद जब उनकी मांगे पूरी नहीं हुई तो लेखपालों ने 15 दिनों तक कामकाज बंद कर दिया। शासन के आश्वासन के बाद भी अभी उनकी एक मांग पूरी नहीं हुई है। रविवार को प्रधानमंत्री ने जब प्रदेश के मुख्यमंत्री, मुख्य सचिव और देश के बड़े-बड़े उद्योगपतियों के आगे प्रदेश में आए रिकार्ड ब्रेकिंग निवेश में पटवारियों के योगदान की चर्जा की, लेखपालों को प्रधानमंत्री के साथ देश चलाने वाला बताया तो प्रदेश के लेखपालों की खुशी का ठिकाना नहीं रहा। लेखपाल संघ के प्रदेश उपाध्यक्ष भूपेन्द्र सिंह बताते हैं कि प्रधानमंत्री जी ने लेखपालों के महत्व को जो सम्मान दिया है, इसके लिए सभी लेखपाल प्रधानमंत्री के दिल से आभारी हैं। लेखपालों को अब भरोसा हो गया है कि जल्द ही उनकी मांगे मान ली जाएंगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:lekhpal