अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

लखनऊ : विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष रामगोविंद चौधरी की तबीयत बिगड़ी, देखें VIDEO

यूपी विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष राम गोविंद चौधरी की तबीयत अचानक बिगड़ गई। वह सदन में राज्यपाल के अभिभाषण पर चर्चा में बोल रहे थे। उस वक्त सदन में मौजूद मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ को श्री चौधरी के तत्काल बाद बोलना था। नेता सदन व मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ अब अभिभाषण पर चर्चा का जवाब 26 फरवरी को देंगे।
विधानसभा में शुक्रवार को दोपहर में राम गोविंद चौधरी को बोलते-बोलते अचानक पसीना आ गया और बैठ कर बोलने की कोशिश करने लगे लेकिन उनका गला फंस सा गया। असहज हो चले श्री चौधरी की आवाज भी कमजोर पड़ गई। अचानक इस तरह की घटना से सब लोग सकते में आ गये। स्थिति नाजुक जानकर विधानसभा अध्यक्ष ने तत्काल सदन स्थगित कर दिया। 
असल में राम गोविंद चौधरी जब कानून-व्यवस्था को लेकर सरकार पर तीखे वार कर रहे थे, तब अचानक उनकी तबीयत बिगड़ने लगी। अध्यक्ष ने पानी लाने को कहा श्री चौधरी को सदन के बाहर पीछे विपक्षी दलों की लाबी में ले जाया गया। अध्यक्ष ने मंत्री सतीश महाना को उनका हालचाल जाने के लिए वहीं भेजा। हालत नाजुक जानकर अध्यक्ष ने सदन 10 मिनट के लिए स्थगित कर दिया और अध्यक्ष खुद मुख्यमंत्री व संसदीय कार्यमंत्री सुरेश खन्ना के साथ विपक्षी दलों की लाबी में गए और श्री चौधरी का हाल-चाल लिया और उनका अच्छे से इलाज कराने के निर्देश दिए। राम गोविंद चौधरी को तत्काल सिविल अस्पताल ले जाया गया। बाद में अध्यक्ष हृदय नारायण दीक्षित ने अपने कक्ष में दलीय नेताओं के साथ बैठक की। इस कारण सदन करीब एक घंटा स्थगित रहा। मुख्यमंत्री भी काफी देर स्थगित सदन में ही बैठे रहे और विपक्षी व सत्ता पक्ष के सदस्य उनसे मिलते रहे। 
बाद में साढ़े चार बजे सदन बैठा तो संसदीय कार्यमंत्री सुरेश  खन्ना ने बताया कि चौधरी की हालत ठीक है। ऐसा स्वास्थ्य मंत्री सिद्धार्थनाथ सिंह ने मुख्यमंत्री को टेलीफोन पर बताया है। प्रथम दृष्टया जांच में किसी प्रकार की कोई गंभीर बात सामने नहीं आई है। अब तय हुआ है कि शुक्रवार को बजट पेश करने का कार्यक्रम यथावत रखा जाए और अभिभाषण पर नेता सदन अपना जवाब अब 26 फरवरी सदन में देंगे। विधानसभा ने  सर्वसम्मति से इस प्रस्ताव को पारित कर दिया। इसके बाद अध्यक्ष ने सदन की कार्यवाही शुक्रवार 11 बजे तक के लिये स्थगित कर दी। 

सिविल अस्पताल में की गई जांच रिपोर्ट मिली सामान्य  
यूपी विधानसभा में नेता विपक्ष रामगोविंद चौधरी को आनन-फानन में उन्हें सिविल अस्पताल में भर्ती कराया गया। जहां इलाज के बाद डॉक्टरों ने उनकी हालत सामान्य बताई है। 
सूचना के बाद अलर्ट हो गए थे डॉक्टर
सिविल अस्पताल के डाक्टरों की टीम को पहले ही एलर्ट कर दिया गया था। श्री चौधरी की वहां पर जांच की गई।  सिविल अस्पताल के चिकित्सा अधीक्षक डॉ. आशुतोष कुमार दुबे ने बताया कि ईसीजी, बीपी, ब्लड प्रेशर आदि की जांच सामान्य मिली है। सीने में दर्द के साथ पसीना आने से उनकी हालत बिगड़ी थी। इलाज के बाद उनकी हालत सामान्य है। ऐहितयात के तौर पर अभी उन्हें भर्ती किया गया है। हालत संतोषजनक होने पर अस्पताल से छुट्टी दे दी जाएगी। वहीं नेताप्रतिपक्ष का हाल चाल जानने के लिए सिविल अस्पताल में सपाजनों का तांता लगा हुआ था। मौके पर सपा के नगर अध्यक्ष फाकिर सिद्दीकी, उपाध्यक्ष सौरभ, नवीन धवन बंटी आदि मौजूद थे।   

नेता प्रतिपक्ष की हालत सामान्य
विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष रामगोविंद चौधरी की तबीयत अचानक बिगड़ने पर गुरुवार की देर दोपहर उन्हें सिविल अस्पताल लाया गया। जहां उपचार के बाद डाक्टरों ने उनकी हालत सामान्य बताई है।
सिविल अस्पताल के चिकित्सा अधीक्षक डा. आशुतोष कुमार दुबे ने बताया कि विधानसभा में भाषण देने के दौरान अचानक गश आने पर उनकी तबीयत बिगड़ी थी। इसके बाद उन्हें आनन-फानन में सिविल अस्पताल लाया गया। गश के चलते ही उन्हें पसीना आ रहा था। प्राथमिक उपचार के बाद अब उनकी तबीयत सामान्य है। 

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Leader of Opposition Ramgovind Chaudhary was admitted to the Civil Hospital