DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बीजेपी पार्षदों ने डिप्टी सीएम को सुनायी अपनी पीड़ा

विकास कार्य न होने से नाराज कुछ पार्षदों ने इस्तीफा देने तक की चेतावनी दे डाली

लखनऊ। प्रमुख संवाददाता

विकास कार्य न होने से नाराज बीजेपी के दो दर्जन से ज्यादा पार्षदों ने शुक्रवार को उप मुख्यमंत्री डॉ दिनेश शर्मा को अपनी पीड़ा सुनायी। चुनाव के बाद से कोई काम न होने पर पार्षदों ने नाराजगी भी जतायी। कुछ पार्षदों ने कहा कि अगर उनके क्षेत्रों में शीघ्र विकास कार्य नहीं शुरू हुआ तो वह इस्तीफा दे देंगे। उपमुख्यमंत्री ने उन्हें समझाया और कहा कि जल्दी ही वह नगर विकास मंत्री, महापौर व अफसरों के साथ बैठक कर विकास की गति को और तेज कराएंगा।

पार्षदों का चुनाव हुए करीब 7 महीने बीत चुके हैं लेकिन अभी उनके इलाकों में काम नहीं शुरू हुआ है। इससे पार्षदों ने जनता से जो वादे किए थे वह उसे पूरे नहीं करा पा रहे हैं। आगे लोकसभा का चुनाव आने वाला है। ऐसे में उन्हें चिन्ता है कि वह जनता के बीच कैसे जाएंगे। बुधवार को डिप्टी सीएम डॉ दिनेश शर्मा से मिलने पहुंचे पार्षद व पूर्व पार्षद रमेश कपूर बाबा, दिलीप कुमार श्रीवास्तव, मुन्ना मिश्रा, रामकृष्ण यादव, राजेश सिंह गब्बर, रजनीश गुप्ता, कुमकुम राजपूत, सुशील तिवारी पम्मी, पार्षद पति गिरीश गुप्ता, संजय राठौर तथा राघव राम तिवारी उनके सामने अपनी बात रखी। पार्षदों ने स्वच्छ भारत अभियान, अमृत योजना उनकी राय व सुझाव न लिए जाने पर नाराजगी जतायी। पार्षदों ने कहा कि 7 महीने होने वाले हैं लेकिन अभी तक कोई काम उनके क्षेत्रों में नहीं शुरू हुआ है। इंदिरा प्रियदर्शनी वार्ड के पार्षद रामकुमार वर्मा ने कहा कि अगर यही स्थिति रही तो वह सदन की बैठक में सात-आठ पार्षदों के साथ इस्तीफा दे देंगे।

74वां संविधान संशोधन लागू करने की मांग

उपमुख्यमंत्री ने उनसे कहा कि इससे काम नहीं चलने वाला है। जनता ने सबको चुना है इसलिए उनकी समस्याएं दूर करने के लिए काम करना होगा। पार्षद मुन्ना मिश्रा ने नगर निगम को शासन से मिलने वाली रकम में से हो रही 10 करोड़ की कटौती रोकने की मांग की। वरिष्ठ पार्षद रमेश कपूर बाबा ने 74वां संविधान संशोधन लागू करने की मांग की। रामकृष्ण यादव ने कहा कि पूर्व में उप मुख्यमंत्री जब महापौर के पद पर तैनात थे तो उन्होंने 74वां संविधान संशोधन के लिए सरकार को पत्र लिखा था। क्यों ना उसी पत्र के साथ वर्तमान महापौर का पत्र लगाते हुए शासन को 74वां संविधान संशोधन लागू करने के लिए लिखा जाए। वरिष्ठ पार्षद दिलीप कुमार श्रीवास्तव ने भी विकास कार्यों का मामला उठाया।

------–----------–------

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:lda