DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

झोलाछाप डॉक्टर ने ली मासूम की जान, परिजनों ने शव रख लगाया जाम- VIDEO 

जिले के हरगांव कस्बे में स्थित एक बंगाली डॉक्टर के पास पेट में दर्द होने पर इलाज के लिए ले जाए गए नौ वर्ष के बच्चे की मौत हो गई। परिजनों ने गलत इलाज का आरोप लगाते हुए शव बंगाली क्लीनिक के बाहर राख कर नारेबाजी की।  
जानकारी के अनुसार कस्बे से लगभग आधा किलोमीटर दूर सुरजीपारा गांव के हड़हनपुरवा मजरा निवासी नंदलाल के बेटे को पेट दर्द की शिकायत पर रविवार शाम चार बजे कस्बे के बंगाली डॉक्टर के अस्पताल में भर्ती कराया गया था। रात आठ बजे हालत गंभीर होने पर उसे पीएचसी रेफर कर दिया गया। वहां से उसे जिला अस्पताल सीतापुर भेज दिया गया। जिला अस्पताल पहुंचने पर डॉक्टर ने बच्चे को मृत घोषित कर दिया। परिजनों ने सोमवार सुबह करीब छह बजे बंगाली डॉक्टर के अस्पताल के बाहर शव रख कर प्रदर्शन शुरू कर दिया। परिजनों का आरोप है कि बंगाली डॉक्टर के गलत इलाज से ही बच्चे की मौत हुई है।

 

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Jhola Chop doctor lectures Li Masoom family kills the dead body