DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

निजी आईटीआई संस्थानों में होंगे सीधे दाखिले

 निजी आईटीआई संस्थानों में इस बार ऑनलाइन काउंसलिंग कर दाखिले दिये जा रहे हैं। इसका पहला चरण खत्म हो गया है। प्रवेश प्रक्रिया चार चरणों में होनी थीं, लेकिन पहले ही चरण में कम आवेदन आए। अनुमानित आवेदनों की संख्या कम आने से राज्य व्यावसायिक प्रशिक्षण परिषद(एससीवीटी) ने दूसरे और तीसरे चरण की प्रक्रिया रद्द कर दी है। अब 17 अगस्त के बाद सीधे चौथे चरण से ऑनलाइन प्रक्रिया चलेगी। इसके लिए परिषद की ओर से शासन का पत्र भेजा गया है। अब निजी संस्थान अपने स्तर से भी अभ्यर्थियों को सीधे दाखिले दे सकेंगे।

आईटीआई की काउंसलिंग प्रक्रिया में पहली बार निजी आईटीआई संस्थान शामिल हुए हैं। इसके लिए एप बनाकर ऑनलाइन काउंसलिंग चल रही है। ऑनलाइन काउंसलिंग के पहले चरण में लगभग सवा लाख(1.25) अभ्यर्थी शामिल हुए थे। इतनी कम संख्या में आवेदन के चलते एससीवीटी दूसरा और तीसरा चरण रद्द करने जा रहा है। अब सीधे चौथे चरण की प्रक्रिया 17 अगस्त के बाद शुरू होगी। परिषद ने इसके लिए शासन को पत्र लिखकर अनुमति मांगी है।

संस्था स्तर पर हो सकेंगे दाखिले

परिषद खाली सीटों को भरने के लिए संस्था स्तर पर दाखिले की मंजूरी देने जा रहा है। शासन से अनुमति के बाद संस्थाएं अपने स्तर पर सीधे दाखिले की प्रक्रिया करेंगी। संस्था को आवेदक को सीट देने के बाद पोर्टल पर जानकारी अपलोड करनी होगी।

सरकारी आईटीआई में 14 तक होंगे प्रवेश

राजकीय आईटीआई में काउंसलिंग प्रक्रिया अभी चल रही है। प्रदेश भर में लगभग अभी 50 हजार सीटें खाली हैं। परिषद पर ऑनलाइन प्रक्रिया के माध्यम इन सीटों की भरने की जिम्मेदारी है। राजकीय आईटीआई में प्रवेश प्रक्रिया के लिए 14 अगस्त तक आवेदन स्वीकार होंगे। इसके बाद राजकीय संस्थान में अभ्यर्थी प्रवेश नहीं ले सकेंगे।

 

सरकारी आईटीआई की प्रवेश प्रक्रिया 14 अगस्त तक चलेगी। निजी आईटीआई में लाखों सीटें खाली पड़ी है। इसके लिए संस्थाओं को सीट भरने के लिए शासन को पत्र लिखा गया है। 17 अगस्त के बाद से सीधे दाखिले होंगे।

एससी तिवारी, संयुक्त निदेशक, आईटीआई।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:ITI