DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   उत्तर प्रदेश  ›  लखनऊ  ›  गोमती में जलकुम्भी पर मुख्य अभियंता के खिलाफ कार्रवाई के निर्देश

लखनऊगोमती में जलकुम्भी पर मुख्य अभियंता के खिलाफ कार्रवाई के निर्देश

हिन्दुस्तान टीम,लखनऊPublished By: Newswrap
Mon, 24 May 2021 10:40 PM
गोमती में जलकुम्भी पर मुख्य अभियंता के खिलाफ कार्रवाई के निर्देश

लखनऊ। प्रमुख संवाददाता

गोमती नदी में जलकुम्भी देख नगर विकास मंत्री आशुतोष टंडन ने नाराजगी व्यक्त की। उन्होंने नगर आयुक्त अजय कुमार द्विवेदी को फटकार लगाई। लापरवाही बरतने पर नगर निगम के मुख्य अभियंता (विद्युत/यांत्रिक) राम नगीना त्रिपाठी के खिलाफ कार्रवाई का आदेश दिया है। साथ ही माइक्रोप्लान बनाकर बुधवार से नदी की सफाई कराने का निर्देश दिया है।

नगर विकास मंत्री ने नदी की सफाई, गिरने वाले नालों पर जाली लगाने तथा वर्षा से पूर्व नालों की सफाई पर बैठक की। बार-बार निर्देश के बाद भी नदी में जलकुम्भी की सफाई न होने पर नाराजगी व्यक्त की। उन्होंने नगर निगम, सिचाईं विभाग व जिला प्रशासन की संयुक्त टीम बनाकर मंगलवार तक स्थलीय निरीक्षण माइक्रोप्लान बनाने का निर्देश दिया। बताया गया कि लगभग 2000 टन जलकुम्भी है। इसपर मंत्री ने कहा कि चरणबद्व तरीके से सफाई की जाए। पहले चरण में बुधवार को बैराज को बंद कर पानी का जलस्तर बढ़ाया जाये। एकत्र हुई जलकुम्भी को गेट खोलकर आगे तक बहाया जाए।

दस दिन का विशेष अभियान कल से

मंत्री ने कहा कि दूसरे चरण में गुरुवार से दस दिन का विशेष अभियान चलाया जाए। कुड़ियाघाट से पक्कापुल और पक्कापुल से गोमती बैराज तक 17 स्थल चिह्नित कर मशीनों से जलकुम्भी निकाला जाए। इसके लिए सिंचाई विभाग 10 पोकलैण्ड मशीनें उपलब्ध कराएगा। नगर निगम निकली गई जलकुम्भी को ट्रक, डम्पर व ट्रालियों से प्रोसेसिंग प्लान्ट तक पहुंचायेगा। इस अभियान में 25 नावें प्रतिदिन लगायी जाएं। दस दिन के विशेष अभियान के बाद भी हर माह पांच दिन गोमती नदी की जलकुम्भी की सफाई का अभियान निरन्तरता से चलाया जायेगा।

नालों पर लगे जाली

लखनऊ के बाहर 80 नाले गोमती में प्रवाहित हो रहे हैं। नगर निगम मुख्य अभियंता (सिविल) एवं मुख्य अभियंता (विद्युत/यांत्रिक) ऐसे सभी नालों का संयुक्त रूप से निरीक्षण कर जाली लगवाएं और कचरा हटवाने की व्यवस्था करें। उन्होंने 15 दिन में सभी नालों की शत-प्रतिशत सफाई पूरी करने का नगर आयुक्त को सख्त निर्देश दिया है। बैठक में महापौर संयुक्ता भाटिया, अपर मुख्य सचिव नगर विकास डॉ. रजनीश दूबे, विशेष सचिव संजय यादव, नगर आयुक्त अजय दिवेदी, अधीक्षण अभियंता सिंचाई राकेश कुमार जैन, एडीएम सिटी (टीजी) केपी सिंह आदि मौजूद रहे।

संबंधित खबरें