DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

भारत-वेस्टइण्डीज ट्वेंटी-20 मैच : संभल के कहीं नकली टिकट न खरीद लें

इकाना अंतरराष्ट्रीय स्टेडियम में छह नवम्बर को भारत-वेस्टइण्डीज के बीच होने वाले ट्वेंटी-20 क्रिकेट मैच के नकली टिकट नजर आने लगे हैं। कई लोग ऐसे हैं जिन्होंने दावा किया है कि उन्होंने इस मैच के टिकट खरीद लिए हैं। उधर, उत्तर प्रदेश क्रिकेट एसोसिएशन के सीईओ दीपक शर्मा ने मीडिया को बताया कि इकाना स्टेडियम में होने वाले मैच के  टिकट बिक्री के लिए जारी नहीं किए गए हैं। टिकट अभी छपने के लिए भी नहीं गए हैं। 

बेंगलुरु, मोहाली, कोलाकाता, कोच्चि, विशाखापट्टनम में इसके पूर्व क्रिकेट मुकाबलों के नकली टिकट पकड़े जा चुके हैं। तीन-चार दिन पहले कुछ लोगों ने इकाना स्टेडियम में भारत-वेस्टइण्डीज के बीच होने वाले मैच के टिकट की फोटो सोशल मीडिया पर शेयर की। इसमें उन्होंने दावा किया कि उनके पास टिकट आ गए हैं। इसके बाद उत्तर प्रदेश क्रिकेट एसोसिएशन हरकत में आया।

उसने बुधवार को अपने सीईओ के मार्फत कहा कि उसके पास बाजार में नकली टिकटों की बिक्री की शिकायतें आ रही हैं। यह टिकट पूरी तरह नकली और अमान्य हैं। टिकटों की बिक्री अभी शुरू नहीं हुई है। 

मंगलवार को राजधानी में यूपीसीए व इकाना प्रबंधन के बीच हुई बैठक टिकट दरों पर फैसला हुआ है। अब टिकट छपने जाएंगे। टिकटों की आधिकारिक ऑनलाइन बिक्री  15 अक्तूबर से शुरू होगी। ऑन ग्राउण्ड टिकटों की बिक्री इकाना स्टेडियम के गेट नम्बर-2 से की जाएगी। इसकी तारीख अभी घोषित नहीं की गई है। संभवत: 20 अक्तूबर से इकाना स्टेडियम में टिकटों की बिक्री शुरू हो जाएगी। यूपीसीए ने इस संबंध में पूरी जानकारी जिला व पुलिस प्रशासन को दे दी है। पुलिस भी फर्जी टिकटों की बिक्री को लेकर सतर्क हो गई है। पुलिस की खुफिया इकाई सक्रिय हो गए है। 
भारत-वेस्टइण्डीज ट्वेंटी-20 मैच की टिकट दरें
पूर्व व पश्चिम एक से पांच ब्लाक: 
1000, 1500, 2000, 2500 व 4000 रुपये
कॉरपोरेट बॉक्स (साउथ पवेलियन) : 23000 रुपये
कॉरपोरेट बॉक्स (नॉर्थ पवेलियन) : 20000 रुपये
टॉप टियर (साउथ पवेलियन):               5000 रुपये
टॉप टियर (नॉर्थ पवेलियन) :                5000 रुपये
वीआईपी लाउंज (नॉर्थ पवेलियन) : 20000 रुपये
प्लेटिनम लाउंज (साउथ  पवेलियन) : 12000 रुपये, प्लेटिनम लाउंज (नॉर्थ पवेलियन): 10000 रुपये
स्टेडियम के पास लगेंगे टावर

इकाना अंतरराष्ट्रीय स्टेडियम के भीतर दूरसंचार कंपनियों का नेटवर्क बहुत कमजोर है। सिगनल कमजोर हो जाते हैं। स्टेडियम के कई ऐसे हिस्से हैं जहां से मोबाइल फोन पर बात करना मुश्किल होता है। कई बार फोन मिलता नहीं। कॉल ड्राप की समस्या रहती है। मैच के दौरान स्टेडियम में देश-विदेश के मीडिया कर्मी मौजूद रहेंगे। इसके अलावा टेलीविजन पर मैच प्रसारण करने के इंतजाम करने होंगे। इसके लिए सिग्नल मजबूत और निर्बाध मिलने जरूरी होंगे। ऐसी स्थिति में दूरसंचार कंपनिया स्टेडियम के आसपास दो अतिरिक्त टॉवर लगाने जा रही हैं। 
स्टूडेंट गैलरी नहीं होगी

मैच देखने के लिए स्टूडेंट गैलरी नहीं होगी। ज्यादातर स्टेडियमों में स्टूडेंट गैलरी बनाई जाती है। इसमें सस्ती दरों पर टिकट उपलब्ध कराए जाते हैं। यह टिकट विद्यार्थियों को अपने स्कूल के परिचय पत्र पर दिए जाते हैं। विद्यार्थियों को तसल्ली रहती है कि उन्हें सस्ती दरों पर मैच देखने के लिए टिकट मिलेंगे। पर इकाना में ऐसा नहीं होगा। मैच देखने के लिए दर्शकों को कम से कम 1000 रुपये का टिकट तो खरीदना ही पड़ेगा। 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:India-West Indies Twenty20 Match: Avoid buying fake tickets