class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अमेठी में पूर्व मंत्री गायत्री प्रसाद प्रजापति का अवैध निर्माण ढहाया गया

पूर्व मंत्री गायत्री प्रजापति का अवैध निर्माण ढहवाया

कार्रवाई

तालाब की जमीन पर कर लिया था कब्जा, प्रशासन ने की कार्रवाई

पूर्व मंत्री के प्रतिनिधि ने प्रशासन पर लगाया सत्ता के दबाव में काम करने का आरोप

अमेठी। हिन्दुस्तान संवाद

स्थानीय प्रशासन और नगर पंचायत की संयुक्त टीम ने राजस्व ग्राम महमूदपुर में पूर्व मंत्री गायत्री प्रसाद प्रजापति के कार्यालय के पास स्थित तालाब खाते की जमीन पर किए गए अवैध निर्माण को जेसीबी लगाकर गिरवा दिया। एसडीएम शैलेन्द्र कुमार मिश्र की अगुवाई में गुरुवार को हुई कार्रवाई के दौरान पूर्व मंत्री के प्रतिनिधि की अफसरों से तीखी बहस भी हुई। पूर्व मंत्री के प्रतिनिधि विजय पाल उपाध्याय ने प्रशासन पर सत्ता के दबाव में जोर जबरदस्ती करने का आरोप लगाया है।

आवास विकास कालोनी महमूदपुर राजस्व ग्राम में बसी हुई है। कालोनी के एक किनारे पर पूर्व मंत्री का जनसम्पर्क कार्यालय है। कार्यालय के पास ही एक तालाब है। तालाब के आसपास की जमीन पर कई लोगों ने मकान निर्माण करा लिया है। प्रशासन ने तालाब खाते की जमीन भूखण्ड सं. 1020 में स्थित निर्माण को गुरुवार को सख्ती के साथ हटवा दिया। तहसीलदार महेन्द्र कुमार ने बताया कि अवैध निर्माण तालाब खाते की जमीन पर किया गया था। ईओ इन्द्र प्रकाश ने बताया कि तालाब की पैमाइश पहले भी हो चुकी है। गुरुवार को एसडीएम के निर्देश पर संयुक्त टीम ने अतिक्रमण हटवाया है।

लोकायुक्त के यहां हुई थी शिकायत :

एसडीएम शैलेन्द्र कुमार मिश्र ने बताया कि 15 दिन पहले तालाब की पैमाइश कराई गई थी। पूर्व मंत्री प्रतिनिधि विजय पाल उपाध्याय ने अवैध निर्माण हटाने के लिए लिखकर दिया था। प्रशासन की ओर से उन्हें पूरा समय दिया गया। पूर्व मंत्री प्रतिनिधि निराधार आरोप लगा रहे हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Illegal construction of former minister Gayatri Prajapati collapsed
कम होगी एसी बसों की अनुबंध सीमा, बोर्ड में जाएगा प्रस्तावसहकारी समितियों में प्रजातांत्रिक व्यवस्था का गला घोटा: शिवपाल