DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

स्मृति ईरानी के कैसे खास बने सुरेन्द्र सिंह, पढ़ें पूरा राजनीतिक सफर

surendra singh was the former head of baraulia village in amethi   ht   photo

 53 वर्षीय भाजपा नेता स्व. सुरेन्द्र प्रताप सिंह अपने 32 वर्ष के राजनीतिक व सामाजिक जीवन में आम जनता के बीच काफी लोकप्रिय रहे। उनकी कर्मठता का ही नतीजा रहा कि वह 5 वर्ष पूर्व अमेठी से चुनाव लड़ने आई भाजपा नेता स्मृति ईरानी के बेहद करीबी बन गए। स्मृति ईरानी ने उनकी अर्थी को कंधा देकर इसे साबित भी कर दिया। 

जामों ब्लाक के गांव अमरबोझा मजरे बरौलिया निवासी शिवभवन सिंह के पुत्र सुरेन्द्र प्रताप सिंह ने अपने राजनीतिक जीवन की शुरुआत वर्ष 1987 में भाजपा नेता दादा तेजभान सिंह के साथ की। पार्टी के प्रति उनकी लगन व मेहनत के चलते 1991 में उन्हें भाजपा का जामों ब्लाक का मंडल अध्यक्ष बना दिया गया। वर्ष 2005 में उन्होंने बरौलिया ग्राम पंचायत से ग्राम प्रधान का चुनाव लड़ा और सफलता प्राप्त की। इसके बाद वर्ष 2010 व 2015 के पंचायत चुनाव में अपने समर्थित उम्मीदवार को ग्राम प्रधान का चुनाव जिताकर लोकप्रियता साबित की। 2014 में अमेठी से भाजपा प्रत्याशी के रूप में चुनाव लड़ने आई स्मृति ईरानी का साथ सुरेन्द्र सिंह ने पूरे समर्पण के साथ दिया और उनके करीबी बन गए। स्मृति ईरानी के कहने पर ही पूर्व रक्षा मंत्री मनोहर पार्रिकर ने सुरेन्द्र सिंह की ग्राम पंचायत बरौलिया को सांसद आदर्श ग्राम योजना के तहत गोद लेकर गांव का विकास कराया।

2015 में सुरेन्द्र सिंह को भाजपा जिला उपाध्यक्ष बनाया गया। 2017 तक वह इस पद पर रहे। लोकसभा चुनाव 2019 में सुरेन्द्र सिंह ने एक बार फिर भाजपा प्रत्याशी स्मृति ईरानी को जिताने के लिए जी जान लगा दिया। परिणाम रहा कि उनकी ग्राम पंचायत बरौलिया के तीनों बूथों को मिलाकर कांग्रेस को जहां 524 मत मिले वहीं स्मृति ईरानी को 1056 मत मिले।

शनिवार की रात हुई सुरेन्द्र सिंह की हत्या से परिजनों के साथ ही क्षेत्र में शोक की लहर है। वहीं केन्द्रीय मंत्री स्मृति ईरानी के साथ ही प्रदेश सरकार के मंत्री मोहसिन रजा व सुरेश पासी, पूर्व मंत्री जंगबहादुर सिंह, पूर्व मंत्री आशीष शुक्ल, भाजपा जिलाध्यक्ष दुर्गेश त्रिपाठी सहित कई भाजपा नेताओं ने उनके घर पहुंचकर न केवल परिजनों को ढांढस बंधाया, बल्कि उनकी अर्थी को कंधा देकर भाजपा में उनकी अहमियत को साबित किया।  

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:How Surendra Singh Smriti Iranis Special