DA Image
29 नवंबर, 2020|12:50|IST

अगली स्टोरी

हाउस टैक्स वसूली में नगर निगम ने रिकार्ड तोड़ा

हाउस टैक्स वसूली में नगर निगम ने पिछला रिकार्ड तोड़ दिया है। फरवरी माह के समाप्त होने पर पिछले वित्तीय वर्ष की तुलना में दो करोड़ अधिक वसूली हो चुकी है। मार्च माह में 50 करोड़ रुपए मिलना तय है। क्योंकि इस माह सरकारी विभागों से टैक्स जमा होता है। ओटीएस लागू हुआ तो 100 करोड़ रुपए और राजस्व जमा होने की संभावना है।

आर्थिक तंगी से जूझ रहे नगर निगम ने इस वर्ष कड़ी मेहनत की है। इसका परिणाम दिखने लगा है। पिछले वित्तीय वर्ष में नगर निगम को कुल 177.02 करोड़ रुपए राजस्व मिल सका था। इस वर्ष फरवरी माह के समाप्त होने पर 179.30 करोड़ रुपए राजस्व जमा हो चुका है। पिछले वर्ष की तुलना में भवनों की संख्या में भी इजाफा हुआ है। पिछले वर्ष 2.25 लाख घरों से वसूली हो सकी थी। जबकि अब तक 2 लाख 38 हजार 665 घरों से वसूली हो चुकी है। नगर निगम ने एक मुस्त समाधान योजना (ओटीएस) लागू करने का प्रस्ताव शासन को भेज दिया है। ओटीएस लागू हुआ तो लगभग 100 करोड़ रुपए और जमा होने की संभावना है। राजस्व वसूली में हुई वृद्धि से नगर निगम के अधिकारी व कर्मचारी काफी उत्साहित है। उनको बकाया भुगतान होने के साथ समय पर वेतन भी मिलने की आस बढ़ गई है।