DA Image
23 सितम्बर, 2020|8:55|IST

अगली स्टोरी

बाढ़ से प्रभावित गांवों में स्वास्थ्य शिविर लगाए जाएं: राहत आयुक्त

default image

- सभी तटबंध सुरक्षित, चिंताजनक स्थिति नहींप्रमुख संवाददाता- राज्य मुख्यालयराहत आयुक्त संजय गोयल ने कहा है कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सभी डीएम को निर्देश दिए हैं कि बाढ़ प्रभावित सभी गांवों में स्वास्थ्य शिविर लगाए जाएं। प्रदूषित जलजनित व वेक्टर जनित रोगों की रोकथाम के लिए जरूरी उपाए किए जाएं। उन्होंने बताया कि प्रदेश के सभी तटबंध सुरक्षित हैं और चिंताजनक स्थिति कहीं नहीं है।उन्होंने मंगलवार को पत्रकारों से बातचीत में कहा कि बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में लोगों के उपचार के लिए समुचित दवाओं का पर्याप्त स्टॉक रखा जाए। पशुओं के आहार के लिए चारा, भूसा आदि की पर्याप्त व्यवस्था की जाए। प्रदेश के बाढ़ प्रभावित जिलों में सर्च व रेस्क्यू के लिए 29 टीमें और 414 नावें लगाई गई हैं। प्रदेश में 373 बाढ़ शरणालय और 784 बाढ़ चौकियां स्थापित हैं। प्रदेश के 16 जिलों के 644 गांवों बाढ़ से प्रभावित हैं। शारदा नदी, पलिया कला (लखीमपुरखीरी), सरयू (घाघरा) नदी तुर्तीपार (बलिया) तथा गंगा नदी गायघाट (बलिया) में अपने खतरे के जलस्तर से ऊपर बह रही है।फसलों के नुकसान का आकलन 15 तक करेंजिलाधिकारियों को निर्देश दिया गया है कि बाढ़ से फसलों के नुकसान का आकलन 15 सितंबर तक अनिवार्य रूप से कर लिया जाए। नुकसान का आकलन करते हुए प्रभावित किसानों को अनुदान देने की व्यवस्था की जाए। इसके साथ ही इसकी पूरी रिपोर्ट राहत आयुक्त कार्यालय को भी दी जाए।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Health camps should be set up in flood-affected villages Relief Commissioner