class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

यूपी और केंद्र में जीएसटी पर व्यापारियों का बंटवारा

प्रमुख संवाददाता- राज्य मुख्यालय

गुड्स सर्विस टैक्स (जीएसटी) वसूली में टैक्स बंटवारे को लेकर यूपी और केंद्र के बीच पंजीकृत करदाता व्यापारियों का बंटवारा हो गया है। आयुक्त वाणिज्य कर मुकेश कुमार मेश्राम ने इस संबंध में अधिकारियों को निर्देश भेज दिया है।

उन्होंने बताया कि यूपी में पंजीकृत करदाताओं का विभाजन केंद्र व राज्य सरकार के बीच किए जाने के संबंध में जीएसटी काउंसिल सचिवालय से निर्देश जारी कर दिया गया है। इसमें 1.50 करोड़ रुपये से अधिक टर्नओवर वाले करदाता व्यापारियों का बंटवारा किया गया है। इसमें 41,122 केंद्र और 41,122 यूपी के हिस्से में आए हैं।

इसी तरह 1.50 करोड़ तक टर्नओवर वाले करदाता वाले व्यापारियों का भी बंटवारा किया गया है। केंद्र सरकार के हिस्से में 61,522 करदाता व्यापारी आए हैं और यूपी के हिस्से में 5,53,691 व्यापारी आए हैं। उन्होंने कहा है कि सभी वाणिज्यिक तथा औद्योगिक संस्थाओं, एसोसिएशन व चेयरमैन ऑफ कामर्स को इसकी जानकारी दे दी जाए।

इसके अलावा वाणिज्य कर विभाग के विभागीय वेबसाइट में जीएसटी पोर्टल पर पूरी जानकारी दी गई है। जीएसटी में होने वाली वसूली केंद्र व राज्य के बीच इसके आधार पर ही बांटी जाएगी। आयुक्त वाणिज्य कर ने विभागीय अधिकारियों को निर्देश दिया है कि जीएसटी में अधिक से अधिक संख्या में व्यापारियों को पंजीकृत किया जाए, जिससे विभाग के राजस्व वसूली में वृद्धि हो सके।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:GST
देवताओं के आवाहन से शुरू हुआ 51 कुण्डीय महायज्ञअब नहीं अटकेंगे पॉलीटेक्निक चौराहे पर वाहन