Gonda: The painful death of mother and son by burning alive - गोंडा : आग से जिंदा जलकर मां-बेटे की दर्दनाक मौत DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

गोंडा : आग से जिंदा जलकर मां-बेटे की दर्दनाक मौत

गोंडा जिले के खरगूपुर इलाके में गुरुवार आधी रात को अज्ञात कारणों से लगी आग में एक महिला व उसके मासूम बच्चे की जिंदा जल कर दर्दनाक मृत्यु हो गई। 

 खरगूपुर थाना क्षेत्र के निधिनगर के बलवंत नगर के पिंगल के परिवार के लोग गुरुवार रात को गेहूं काटने चले गए थे। इस दौरान घर पर उनकी पुत्री प्रभावती (25वर्ष) अपने डेढ़ वर्षीय पुत्र रंजीत के साथ घर में अकेले सो रही थी। आधी रात के करीब उसकी मच्छरदानी में आग लग गई। आग की लपटों की दहक से उसकी नींद खुली तो चारपाई जल रही थी। उसकी चीख पुकार सुनकर जब तक पड़ोसी रामधीरज व अन्य पहुंचे तब तक मां और मासूम बेटा काफी जल चुके थे। सूचना पर पहुंचे एसओ संतोष कुमार तिवारी ने दोनों को सीएचसी भेजा। वहां से प्राथमिक उपचार के बाद जिला अस्पताल भेज दिया गया। जिला अस्पताल में इलाज के दौरान दोनों की मौत हो गई। 

परिजनों ने बताया कि मृतका का पति एमपी लाल बुड़नी बहराइच करीब दो साल से पत्नी की विदाई नहीं करा रहा था। जिस वजह से वह अपने डेढ़ साल के बेटे के साथ मायके में रह रही थी। मृतका का पिता पिंगल रोजी रोटी कमाने के लिए बाहर रहता था। मां पार्वती व चाचा जैराम इलाज के लिए लेकर गए थे। मासूम व उसकी मां की मौत पर गांव में सन्नाटा पसरा हुआ है। राजस्व निरीक्षक अभिषेक कुमार व क्षेत्रीय लेखपाल इम्तियाज खान ने मौके पर क्षति का आंकलन किया है। जिला प्रशासन ने बताया कि नियमानुसार आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Gonda: The painful death of mother and son by burning alive