gonda sitapur - कांग्रेस ने साठ तो भाजपा ने पांच साल जनता को ठगा : मायावती DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कांग्रेस ने साठ तो भाजपा ने पांच साल जनता को ठगा : मायावती

कांग्रेस ने साठ तो भाजपा ने पांच साल जनता को ठगा : मायावती

तीखे तेवर

मसूद अजहर को छोड़नी वाली भाजपा आज उसी के नाम पर वोट मांग रही

कहा-नोटबंदी व जीएसटी जल्दबाजी में लागू करने से बढ़ी बेरोजगारी

गोण्डा/सीतापुर हिन्दुस्तान टीम

प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री और बसपा सुप्रीमो मायावती ने गुरुवार को गठबंधन प्रत्याशियों के समर्थन में गोण्डा और सीतापुर में जनसभाएं कीं। यहां उन्होंने कांग्रेस और भाजपा पर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने साठ साल तो भाजपा ने पांच साल जनता को ठगा है। मसूद अजहर को छोड़ने वाली भाजपा आज उसी के नाम पर वोट मांग रही है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने यदि अपनी जिम्मेदारी को ईमानदारी से निभाया होता तो आज भाजपा की सरकार नहीं होती।

गोण्डा के कटरा बाजार में कैसरगंज से गठबंधन प्रत्याशी चंद्रदेव यादव करैली के समर्थन आयोजित जनसभा में बसपा सुप्रीमो ने कहा नमो-नमो जाने वाले हैं और भीम-भीम वाले आने वाले हैं। उन्होंने कहा कि ये कैसी चौकीदारी है कि पूंजीपति पैसे लेकर भाग गए। बसपा सुप्रीमो ने कहा कि आंतकी अजहर मसूद को लेकर भी अब भाजपा वोट की राजनीति कर रही है। उन्होंने कहा कि आंतरिक आंतकी हमले लगातार हो रहे हैं और प्रधानमंत्री चौकीदारी का ढोल पीट रहे हैं। बसपा राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कहा कि अब इनकी चौकीदारी नाटकबाजी नहीं चलेगी। उन्होंने कहा कि कांग्रेस और भाजपा शासित राज्यों में आरक्षण नहीं दिया गया है। पूंजीवाद को बढ़ावा देने के लिए कार्पोरेट जगत में भर्तियों का रास्ता खोला गया है। योगी सरकार पर भी हमला किया। कहा कि आवारा पशुओं से किसानों की मेहनत बर्बाद हो रही है। नरेन्द्र मोदी को मुलायम सिंह यादव के आशीर्वाद पर साफ किया कि वे कहना कुछ और चाहते थे लेकिन अधिक उम्र की वजह से कह कुछ और गए। सीतापुर में गुरुवार को गठबंधन प्रत्याशी नकुल दुबे की जनसभा में बसपा मुखिया के निशाने पर भाजपा कम, कांग्रेस ज्यादा रही। नगर के जीआईसी मैदान में आयोजित जनसभा में उन्होंने कहा कि पीएम नरेन्द्र मोदी ने पिछले लोकसभा चुनाव में मध्यम वर्गीय, कमजोर वर्ग व गरीब-किसानों को अच्छे दिन दिखाने के जो सपने दिखाए थे, वे सपने एक-चौथाई भी पूरे नहीं हुए हैं। पूरे देश में अबतक दलितों, आदिवासियों व अन्य पिछड़े वर्गों का सरकारी नौकरियों में आरक्षण का कोटा अधूरा पड़ा है। मायावती ने कहा कि केन्द्र सरकार ने जिस प्रकार नोटबंदी और जीएसटी को जल्दबाजी में लागू किया उससे पूरे देश में गरीबी और बेरोजगारी बढ़ी है। भ्रष्टाचार भी इस सरकार में बढ़ गया है। देश में रक्षा सौदे भी प्रभावित होने से नहीं बच सके हैं। वोटरों को लुभाने के लिए हर महीने छह हजार रुपए देने की जो बात कांग्रेस कह रही है वह गरीबी दूर करने का कोई स्थायी हल नहीं है। हमारी सरकार बनी तो सरकारी व गैरसरकारी क्षेत्र में रोजगार देने की व्यवस्था करेंगे। मायावती ने महिलाओं से आह्वान करते हुए कहा कि वोटिंग के दिन नाश्ता-चाय नहीं करना है। सुबह उठकर सबसे पहले वोट डालना है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:gonda sitapur