DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कमालपुर के महेन्द्र ने कमाल कर दिया, आईएएस में 297वीं रैंक 

Mahendra, Union Public Service Commission, Examination, Rank

जनपद की तहसील कर्नलगंज के एक छोटे से गांव कमालपुर के रहने वाले महेन्द्र प्रताप सिंह ने कमाल कर दिखाया है। संघ लोक सेवा आयोग की परीक्षा में पूरे देश में 297वीं रैंक पर चयनित होकर महेन्द्र ने ‘गंदे गोंडा’ में प्रतिभा का फूल खिलाया है। उनकी इस कामयाबी से गांव वाले फूले नहीं समा रहे हैं। 
10 अगस्त 1992 को जन्मे महेन्द्र प्रताप सिंह विसेन ने दूसरे प्रयास में आईएएस की परीक्षा में उत्तीर्ण होकर जनपद का मान बढ़ा दिया है। बेटे के संघ लोक सेवा आयोग द्वारा आयोजित परीक्षा में 297वीं रैंक से सफल होने पर पिता मनमोहन सिंह और माता कुमुद सिंह हर्षोल्लास से लोगों की बधाइयां स्वीकार कर रहे हैं। उन्होंने बताया कि महेन्द्र बचपन से ही होनहार था। उदया पब्लिक स्कूल फैजाबाद से मैट्रिक की परीक्षा पास करने के बाद इंटरमीडिएट के लिए डीएवी कालेज कोटा राजस्थान गया। फिर इंजीनियर की शिक्षा कोलकाता से पूरी करने के साथ-साथ आईएएस की परीक्षा में दूसरी बार में सफलता प्राप्त हुई है। बता दें कि महेन्द्र प्रताप सिंह मनकापुर ब्लाक प्रमुख आजाद विक्रम सिंह के बहनोई भी हैं।

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Gonda's Mahendra gets 297th rank in IAS